युग करवट संवाददाता
गाजियाबाद। केंद्रीय सडक़ परिवहन, राजमार्ग और नागर विमानन राज्यमंत्री डॉ. जनरल वी के सिंह आज अपने गाजियाबाद संसदीय क्षेत्र के कई कार्यक्रम में शामिल हुए। सबसे पहले दुहाई स्थित आरडी इंजीनियरिंग कॉलेज में जिला सेवायोजन कार्यालय और आरडी इंजीनियरिंग कॉलेज की ओर से आयोजित एक वृहद रोजगार मेले में मुख्यातिथि के रूप में उपस्थित रहे। इस मौके पर डीएम आर के सिंह भी उपस्थित थे। इस आयोजन में कक्षा आठ से लेकर स्नातक व तकनीकी योग्यता रखने वाले लगभग 4000 विद्यार्थियों ने भाग लिया। रोजगार मेले में 50 से अधिक कंपनियों ने भाग लिया। वहीं दूसरा कार्यक्रम मुरादनगर के आई.टी.एस. डेंटल कॉलेज के ऑडिटोरियम में हुआ। यहां अग्निकांड होने की स्थिति में स्वयंसेवकों की भूमिका को सुनिश्चित करने और प्रशिक्षण के बाद उनको प्रमाणपत्र वितरित किए गए।
मुख्य विकास अधिकारी की ओर से जनपद प्रत्येक खण्ड विकास अधिकारी को अपने-अपने ब्लाक में 100 स्वयं कार्यकर्ताओं की सूची तैयार कर मुख्य अग्निशमन अधिकारी को उपलब्ध कराये जाने के निर्देश दिये गये थे। खण्ड विकास अधिकारी मुरादनगर, भोजपुर, लोनी और रजापुर के द्वारा अपने-अपने ब्लाक के नवयुवकों को इस कार्य के लिए चयनित कर सूची अग्निशमन विभाग को उपलब्ध कराई गई। अग्निशमन विभाग की ओर से मुरादनगर ब्लाक के 124 नवयुवकों को 03 दिवसीय प्रशिक्षण प्रदान किया गया। इस मौके पर जनरल वी के सिंह ने कहा कि प्रत्येक वर्ष लगभग हजारों की संख्या में अग्निकाण्ड होते हैं, जिसमें करोड़ो रुपये की सम्पत्ति जल जाने के साथ-साथ कई बार मानव जीवन की भी हानि हो जाती है। जिसकी रोकथाम के लिए उत्तर प्रदेश सरकार द्वारा विशेष अभियान चलाया जा रहा है। इसके तहत किसी प्रकार की आग की दुर्घटना होने पर अग्निशमन कर्मियों को उस क्षेत्र की आवश्यक जानकारी दी जाएगी और उनकी मदद की जायेगी। जिससे आग से होने वाली जन-धन की क्षति कम किया जा सके।