मीडिया ने पूछा अब आपको क्या मिलेगी जिम्मेदारी
गाजियाबाद (युग करवट)। केंद्रीय मंत्री एवं क्षेत्रीय सांसद जनरल वीके सिंह सपरिवार अपने मताधिकार का प्रयोग करने शिलर इंस्टीट्यूट आये। पूरे चुनाव में केवल मोदी जी के रोड शो के बाद वो पहली बार गाजियाबाद आये है। जाहिर है मीडिया का जमावड़ा उनसे सवाल करने के लिए सुबह से मौजूद था। लेकिन जिस अंदाज में वो पहले दिखाई देते थे उनकी मुस्कुराहट बहुत कुछ कहती थी लेकिन इस बार उनके चेहरे पर मुस्कुराहट तो थी लेकिन उसमें पहले जैसी बात नहीं थी। मीडिया के सवालों का वो बड़ी बेबाकी से जवाब देते थे लेकिन आज वो उतनी बेबाकी से नहीं बोले और सवालों का जवाब गोल-मोल दिया।
हालांकि वो बहुत कुछ कहना था चाहते थे लेकिन प्रॉटोकॉल के चलते ज्यादा नहीं बोल पाये। सवालों का सटीक एवं त्वरित जवाब देने में लाजवाब माने जाने वाले सांसद जनरल वीके सिंह ने पत्रकारों के उत्तर खुलकर नहीं दिये। वहीं जिन सवालों का उत्तर दिया भी तो वो भी गोल-मोल भरे अंदाज में दिया। ठाकुरों की बीजेपी से नाराजगी का सबïब कहीं आपका टिकट कटना तो नहीं इस सवाल के जवाब में उन्होंने कहा कि जब यह प्रश्न सांसद जनत वीके सिंह से पूछा गया तो उनका कहना था कि यह सवाल तो उनसे ही पूछो, यही बेहतर होगा
क्या भाजपा ४०० के पार वाले दावे को पूरा करने में होगी सफल
क्या भारतीय जनता पार्टी अपने उस दावों को पूरा करने में सफल हो पायेगी, जिसमें यह नारा दिया गया था कि इस बार ४०० के पार, इस सवाल का उत्तर भी सांसद जनरल वीके सिंह ने पूरे डिप्लोमेटिक अंदाज में दिया। श्री सिंह ने कहा कि इसका सही पता तो ४ जून को ही चलेगा लेकिन वह इतना जरूर कह सकते हैं कि दक्षिण भारत में जरूर हम पहले से अधिक सीट ला रहे हैं। आप जबकि गाजियाबाद लोकसभा से वर्तमान सांसद हैं और इस लोकसभा क्षेत्र में आपकी काफी अधिक लोकप्रियता भी है, इसके बावजूद आप इस बार अपनी लोकसभा क्षेत्र में ना तो चुनाव प्रचार करते नजर आये और ना ही आप यहां पर होने वाले अधिकांश राजनैतिक कार्यक्रमों में दिखाई दिये, इसके पीेछे की क्या वजह है। इस सवाल के उत्तर में श्री सिंह ने कहा कि भाजपा हाईकमान ने उन्हें दक्षिण के प्रांतों का उत्तरदायित्व दिया था। जिसकी वजह से वह वहां मौजूद रहकर अपने उत्तरदायित्व का पालन कर रहे थे। आप अपने राजनैतिक भविष्य के बारे क्या कहेंगे इस सवाल पर वीके सिंह ने कहा कि इंतजार कीजिए इसका जवाब चार जून के बाद मिल जाएगा।