नोएडा (युग करवट)। बिहार के जनपद बांका निवासी जनता दल यूनाइटेड के एक बड़े नेता के बेटे तथा उसके दोस्त का अपहरण कर पांच लाख की फिरौती मांगने वाले बदमाशों से थाना बीटा-2 पुलिस की आज मुठभेड़ हो गई। पुलिस द्वारा चलाई गई गोली एक बदमाश के पैर में लगी है। इसके एक दोस्त को पुलिस ने पीछा करके पकड़ लिया है। इस घटना में शामिल तीन बदमाश अभी फरार हैं।
पुलिस उपायुक्त (जोन तृतीय) अभिषेक वर्मा ने बताया कि बिहार के जनपद बांका के रहने वाले मिनहाज खान के बेटे दिलबर खान और उसके दोस्त परवेज अंसारी पुत्र बबलू अंसारी का बीती रात को परी चौक के पास से 5 लोगों ने एर्टिगा कार में जबरन अपहरण कर लिया था। उन्होंने बताया कि अपहरणकर्ताओं ने दोनों युवकों के परिजनों से 5 लाख रुपए की फिरौती की मांग की थी।
उन्होंने बताया कि घटना की रिपोर्ट दर्ज कर मामले की जांच कर रही पुलिस ने सोमवार की शाम को एक मुठभेड़ के दौरान दोनों युवकों के अपहरण करने के आरोपी अयूब तथा राशिद पुत्र यासीन को गिरफ्तार किया है। उन्होंने बताया कि पुलिस द्वारा चलाई गई गोली अयूब के पैर में लगी है। पुलिस उपायुक्त ने बताया कि इन बदमाशों के कब्जे से अपहृत किए गए दोनों युवकों को बरामद किया गया है। उन्होंने बताया कि इनके पास से पुलिस ने घटना में प्रयुक्त पिस्टल, तीन कारतूस, एक छुरी, अर्टिगा कार आदि बरामद किया है। उन्होंने बताया कि इस घटना में शामिल तीन बदमाश फरार है। पुलिस उनकी तलाश कर रही है। पुलिस उपायुक्त ने बताया कि जांच के दौरान पुलिस को पता चला है कि अगवा युवक दिलबर खान के पिता मिनहाज खान बिहार के जनपद बांका के जनता दल यूनाइटेड के बड़े नेता हैं। उन्होंने बताया कि जांच के दौरान पुलिस को यह बात पता चली है कि फरार आरोपियों में कुछ अगवा हुए दोनों युवकों के परिचित है। इन्हें एक षड्यंत्र के तहत बिहार से दिल्ली घूमने के बहाने बुलाया गया था, तथा यहां पर उनका अपहरण कर लिया गया।