ग्रेटर नोएडा (युगकरवट)। यमुना एक्सप्रेस-वे पर देर रात को एक दर्दनाक हादसा हुआ है। चेकिंग के दौरान वाणिज्य कर के अधिकारियों की गाड़ी को एक ट्रक ने टक्कर मार दी। इस घटना में एक वाणिज्य कर अधिकारी तथा यूपी पुलिस के सिपाही की मौत हो गई है। जबकि ज्वाइंट कमिश्नर सहित 5 लोगों की हालत अत्यंत नाजुक बनी हुई है। उन्हें नोएडा के फोर्टिस तथा जेवर के कैलाश अस्पताल में भर्ती कराया गया है। घटना की सूचना पाकर मौके पर पहुंची थाना जेवर पुलिस ने शव को कब्जे में लेकर पोस्टमार्टम के लिए भेज दिया है।
थाना जेवर के प्रभारी निरीक्षक उमेश बहादुर सिंह ने बताया कि यमुना एक्सप्रेस वे पर जनपद मथुरा के नौझील थाना क्षेत्र में बीती रात को वाणिज्य कर के अधिकारी टैक्स चोरी रोकने के लिए वाहनों की चेकिंग कर रहे थे। उन्होंने बताया कि ज्वाइंट कमिश्नर मनोज त्रिपाठी, सहायक कमिश्नर विजय कुमार, वाणिज्य कर अधिकारी वीरेंद्र सिंह, कांस्टेबल किशोर शुक्ला आदि एक कोरियर की गाड़ी को रोक कर चेक कर रहे थे। तभी एक अज्ञात ट्रक चालक ने तेजी व लापरवाही से वाहन चलाते हुए वाणिज्य कर अधिकारियों तथा कोरियर की गाड़ी में सीधी टक्कर मार दी। उन्होंने बताया कि इस घटना में ज्वॉइंट कमिश्नर मनोज त्रिपाठी सहित सात लोग गंभीर रूप से घायल हो गए। घायलों को जेवर के कैलाश अस्पताल में भर्ती कराया गया, जहां से मनोज त्रिपाठी की बिगड़ती हालत को देखते हुए नोएडा के फोर्टिस अस्पताल में रेफर किया गया है। उन्होंने बताया कि इस घटना में सीपीओ वीरेंद्र सिंह तथा कांस्टेबल किशोर शुक्ला की मौत हो गई है।
5 लोगों की हालत अत्यंत नाजुक बनी हुई है। उन्होंने बताया कि थाना जेवर पुलिस ने शवों को कब्जे में लेकर पोस्टमार्टम के लिए भेज दिया है। घटना की सूचना पाकर पुलिस उपाधीक्षक माट धर्मेंद्र चौहान गौतम बुद्ध नगर के जेवर स्थित कैलाश अस्पताल पहुंचे।