नोएडा (युग करवट)। फोनरवा चुनाव में हार का सामना करने वाले एनपी सिंह का कहना है कि उन्होंने चुनाव के लिए पहले से तैयारी नहीं की थी जबकि दूसरा पैनल पिछले काफी समय से अपनी तैयारियों में जुटा हुआ था।
युग करवट से बातचीत के दौरान फोनरवा चुनाव में अध्यक्ष पद के प्रत्याशी एनपी सिंह ने बताया कि वह पिछले 2 वर्षों से फोनरवा में सक्रिय नहीं थे।
इसके अलावा उनकी चुनाव को लेकर पहले से कोई तैयारी नहीं थी। कई आरडब्ल्यूए के आग्रह पर ही वह चुनाव के लिए मैदान में उतरे थे।
उन्होंने कहा कि पिछले 2 सालों में 24 नई आरडब्लूए रजिस्टर्ड हुई है जिस कारण चुनाव परिणामों पर असर पड़ा है। उन्होंने कहा कि फोनरवा में पिछले 2 वर्ष से सक्रिय ना रहने के बावजूद भी उन्हें 76 लोगो ने अपना मत दिया। उन्होंने चुनाव में क्षेत्रवाद व जातिवाद को भी हार का कारण बताया।