युग करवट संवाददाता
गाजियाबाद। वर्ष २०१० बैच के आईएएस अधिकारी आरके सिंह ने शनिवार को गाजियाबाद के डीएम का पद भार ग्रहण करते ही अधिकारियों को निर्देश दिए हैं कि चिकित्सा व शिक्षा पर अधिक ध्यान दें। उन्होंने अधीनस्थ अधिकारियों के साथ हुई पहली बैठक में कड़े निर्देश दिए हैं कि कोरोना की तीसरी लहर से निबटने की तैयारी समय से पूर्व हाल में पूर्ण करें ताकि आने वाले समय में दिक्कतों का सामना ना करना पड़े। मीडिया से हुई वार्ता में उन्होंने कहा कि वह जिले को पूर्व से ही जानते हैं, ऐसे में यहां की चुनौतियों व कार्यप्रणाली से भी वह वाकिफ हैं। उनकी प्राथमिकताओं में चिकित्सा-शिक्षा पर फोकस करना रहेगा तो वहीं कोरोना की दूसरी लहर को पूरी तरह से कंट्रोल करने के साथ ही हमें तीसरी लहर से निबटने के लिए भी कमर कसनी हैं। नवनियुक्त डीएम आरके सिंह ने कहा कि जिले के सभी ब्लॉक कार्यालय व बीज भंडारों को मॉडल के रूप में तैयार किया जाएगा। ग्राम सभाओं व पंचायत भवनों का जीर्णाोद्वार कर वहां कॉमन सर्विस सेंटर खोले जाएंगे। गांवों में स्थापित सामुदायिक शौचालय को भी मॉडल के रूप में संचालित करने के निर्देश नवनियुक्त डीएम ने दिए हैं। जिले में सभी प्राइवेट लैब की मानकों के अनुसार जांच की जाएगी व कोरोना टेस्टिंग को लेकर भी नियमित रूप से ड्राइव चलाया जाएगा। डीएम ने जिले में संचालित सभी कोविड अस्पतालों के लिए कहा है कि वह भर्ती संक्रमित मरीजों की जानकारी नियमित रूप से कंट्रोल रूम को देंगे। डीएम ने कहा कि सभी कोविड अस्पतालों में सीसीटीवी कैमरे लगाकर उनका संबंधित लिंक कंट्रोल रूम को उपलब्ध कराया जाएगा ताकि कंट्रोल रूम को अस्पतालों में खाली बेड व मरीजों को मिल रहे इलाज के संबंध में स्पष्टï जानकारी मिलती रही। उन्होंने कहा कि अस्पतालों में जो ऑक्सीजन प्लांट स्थापित किए जा रहे हैं, भविष्य में बेड की संख्या बढऩे पर उन ऑक्सीजन प्लांट को मानकों के अनुरूप तैयार किया जाए। डीएम ने कहा कि आगामी दिनों में उनका फोकस तीसरी लहर से निबटने की तैयारियों को लेकर होगा। डीएम ने शनिवार को चार्ज लेते ही अपनी पहली बैठक में अधिकारियों को कड़े निर्देश जारी किए हैं। बैठक में सीडीओ अस्मिता लाल, नगरायुक्त महेंद्र सिंह तंवर, मुख्य कोषाधिकारी लक्ष्मी मिश्रा, एडीएम सिटी एसके सिंह, एडीएम प्रशासन रितु सुहास, एडीएम फाइनेंस यशवर्धन श्रीवास्तव, सीएमओ डॉ.एनके गुप्ता, एसडीएम डीपी सिंह, एसीएम खालिद अंजुम, एसीएम विनय कुमार व डीडीओ बीसी त्रिपाठी आदि अधिकारी मौजूद रहे।