विशेष संवाददाता
लखनऊ (युग करवट)। मैनपुरी और खतौली सीट पर जीत से समाजवादी पार्टी काफी उत्साहित है। वहीं शिवपाल यादव द्वारा सपा का झंडा थामने के बाद अब उत्तर प्रदेश की राजनीति में चाचा-भतीजे का फैक्टर आने वाले समय में जरूर दिखाई देगा। शिवपाल यादव ने कहा कि अब वह कभी भी सपा का झंडा नहीं छोड़ेंगे। यह बयान अपने आप में काफी अहम है। वहीं सूत्रों से मिली जानकारी के अनुसार सपा के राष्ट्रीय अध्यक्ष अखिलेश यादव शिवपाल सिंह को बड़ी जिम्मेदारी देने की तैयारी में है। सूत्र बताते हैं कि शिवपाल को प्रदेश अध्यक्ष की जिम्मेदारी दी जा सकती है, जबकि यह भी खबर है कि अखिलेश यादव लोकसभा चुनाव २०२४ की तैयारियों के लिये अब दिल्ली की राजनीति करना चाहते हैं, इसलिए शिवपाल यादव को विधानसभा में नेता प्रतिपक्ष की भी जिम्मेदारी दे सकते हैं। यदि ऐसा होता है तो फिर उत्तर प्रदेश विधानसभा में मजबूती के साथ सपा अपनी बात रख सकती है। बहरहाल आने वाले समय में जरूर कुछ चाचा-भतीजे के मिलाप का असर दिखाई देगा।