युग करवट संवाददाता
गाजियाबाद। श्री कृष्ण गौशाला गाजियाबाद व यूपी गौसेवा आयोग द्वारा आरकेजीआईटी में मेरठ और सहारनपुर मंडल में स्थित गौशालाओं के प्रबंधकों के लिए कार्यशाला का आयोजन किया गया। इस दौरान गौवंश के संरक्षण पर जोर दिया गया। कार्यक्रम का शुभारंभ मुख्य अतिथि केंद्रीय राज्यमंत्री पशुपालन डेयरी व मतस्य डॉ.संजीव बालियान ने दीप जलाकर किया। इस दौरान उन्होंने कहा कि देश में गौवंश को एक ऊंचा दर्जा मिला हुआ है। यह प्रकृति के लिए भी बेहद जरूरी है।
गौशालाओं में गौवंश का संरक्षण किया जा रहा है। उनका रख-रखाव कैसे हो, किस तरह से उनकी नस्ल को और बेहतर किया जा सके, इसके लिए प्रशिक्षण दिया जा रहा है ताकि बेहतर ढंग से गौवंशों का संरक्षण हो सके। कार्यशाला के दौरान गौ आधारित कृषि, दूध ना देने वाले गौवंशों का उपयोग, आत्मनिर्भर गौशाला, गौशाला प्रबंधन और गौवंश की बीमारियों, उपचार के बारे में यूपी गौसेवा आयोग के पूर्व सचिव डॉ.पीके त्रिपाठी, सचिव डॉ.वीरेंद्र सिंह ने विस्तार से जानकारी दी। एक दिवसीय प्रशिक्षण में गौसेवा आयोग के अध्यक्ष प्रो.श्याम नंदन सिंह, सदस्य कृष्ण कुमार सिंह उर्फ भोले, एमएलसी दिनेश गोयल, श्री कृष्ण गौशाला के वरिष्ठ उपाध्यक्ष व कार्यक्रम संयोजक देवेंद्र अग्रवाल व महामंत्री वेद प्रकाश बंसल आदि मौजूद रहे।