युग करवट संवाददाता
नोएडा। पूर्वी उत्तर प्रदेश के जनपद फतेहपुर की रहने वाले एक युवक ने अपनी चचेरी बहन को प्रेम जाल में फंसा कर, घर से भगा लिया तथा उसे लेकर ग्रेटर नोएडा आए गया। उसका पीछा करते हुए किशोरी के भाई व परिवार के अन्य लोग ग्रेटर नोएडा आए। उन्होंने किशोरी व युवक को ढूंढ निकाला। दोनों को लेकर भी परी चौक के पास गए तथा वहां पर झाडिय़ों में उनके साथ जमकर मारपीट की। इस घटना में युवक की मौत हो गई जबकि किशोरी जिंदगी व मौत के बीच जूझ रही है। उसे अस्पताल में उपचार के लिए भर्ती कराया गया है।
पुलिस उपायुक्त (जोन तृतीय) अमित कुमार सिंह ने बताया कि रविवार की देर शाम को परी चौक के पास एक युवती लहूलुहान अवस्था में मूर्छित पड़ी थी। उन्होंने बताया कि गश्त करती हुई निकली पुलिस ने वहां पर जाकर देखा तो पास में ही एक युवक लहूलुहान अवस्था में पड़ा था तथा युवती कराह रही थी। उन्होंने बताया कि दोनों को उपचार के लिए अस्पताल में भर्ती कराया गया, जहां पर डॉक्टरों ने युवक को मृत घोषित कर दिया।
जबकि युवती का उपचार चल रहा है। उन्होंने बताया कि होश में आने पर युवती ने पुलिस को बताया कि मृतक का नाम राजू (23 वर्ष) पुत्र जग्गी निवासी ग्राम काऊन जनपद फतेहपुर है। किशोरी ने बताया कि वह तथा राजू एक दूसरे से प्रेम करते हैं तथा आपस में चचेरे भाई-बहन हैं। उनके घर वाले उनकी शादी के लिए तैयार नहीं थे। इसलिए दोनों जनपद फतेहपुर से भागकर ग्रेटर नोएडा आ गए थे।
पुलिस को पूछताछ के दौरान पता चला कि किशोरी के भाई सुनील तथा गोरे व अन्य लोग उनका जनपद फतेहपुर से पीछा करते हुए, ग्रेटर नोएडा तक आए तथा यहां पर रविवार रात को दोनों की उन्होंने जमकर पिटाई की। उन्हे मरा हुआ समझकर झाडिय़ों के कर भाग गए।
डीसीपी ने बताया कि इस मामले में त्वरित कार्रवाई करते हुए पुलिस ने जनपद फतेहपुर से उक्त घटना को अंजाम देने वाले सुनील व गोरे को गिरफ्तार कर लिया है। दोनों किशोरी के सगे भाई हैं। अन्य लोगों की तलाश में पुलिस छापेमारी कर रही है। उन्होंने बताया कि गौतमबुद्धनगर पुलिस आरोपियों को जनपद फतेहपुर से लेकर यहां पर आ रही है। उनसे विस्तृत पूछताछ के दौरान बाद ही इस मामले का पूर्णतया खुलासा किया जाएगा।