नोएडा (युग करवट)। अग्निपथ योजना के विरोध में आज भारत बंद के आह्वान को देखते हुए जनपद गौतमबुद्धनगर में सुरक्षा व्यवस्था कड़ी कर दी गयी है। विभिन्न बॉर्डरों व एक्सप्रेस हाईवे पर पुलिस की तैनाती की गयी है। भारत बंद के चलते यमुना एक्सप्रेस वे, डीएनडी बॉर्डर और चिल्ला बॉर्डर पर काफी लम्बा जाम लग गया। केंद्र सरकार द्वारा सेना में भर्ती से जुड़ी अग्निपथ योजना का विरोध कर रहे युवाओं के प्रदर्शन की आड़ में शांति भंग करने का प्रयास करने वाले असामाजिक तत्वों को गौतमबुद्ध नगर पुलिस कमिश्नरेट की तरफ से चेतावनी जारी की गई है, जो भी शांति व्यवस्था को बिगाडने का प्रयास करेगा उसके खिलाफ कडी कार्रवाही की जाएगी।
आज कांग्रेस ने भी जंतर-मंतर पर प्रदर्शन का ऐलान किया है। कांग्रेस नेता राहुल गांधी को आज ईडी के समक्ष पेश होना है। इसे लेकर कांग्रेसी लामबंद हैं। उन्होंने दिल्ली पहुंचने का ऐलान कर रखा है। इसे लेकर भी बॉर्डर वाले जिलों की पुलिस अलर्ट मोड में है। गौतमबुद्धनगर के प्रमुख कांग्रेस नेताओं पर पुलिस का पहरा है। युवा कांग्रेस के जिला अध्यक्ष पुरुषोत्तम नगर और महानगर अध्यक्ष राम कुमार तंवर, उत्तर प्रदेश कांग्रेस कमेटी के सदस्य सतेंद्र शर्मा सहित अन्य इस विरोध प्रदर्शन में अपने साथियों के साथ दिल्ली जाना चाहते थे पुलिस ने उन्हें उनके घरों में नजरबंद कर दिया है। वहीं जिलाध्यक्ष दिनेश शर्मा, अखिल भारतीय कांग्रेस के सदस्य दिनेश अवाना एडवोकेट, पीसीसी सदस्य पंडित प्रमोद शर्मा, पूर्व महानगर अध्यक्ष शाहबुद्दीन, एनएसयूआई के जिलाध्यक्ष राजकुमार मोनू, पूर्व महासचिव नरेन्द्र भाटी, एनएसयूआई का उपाध्यक्ष विरेन्द्र मुखिया, एससी/एसटी के जिलाध्यक्ष धर्मपाल सिंह वाल्मीकि, जिला उपाध्यक्ष जीनवाल, एनएसयूआई दादरी अध्यक्ष युवराज नागर, महासचिव कपिल भाटी, हरीश लोहिया, रामचन्द्र गुप्ता, परमवीर लोहिया और गौरव अधना समेत कई कांग्रेसी नेता पुलिस को चकमा देकर जंतर-मंतर पर आयोजित प्रदर्शन स्थल पर पहुंचने में कामयाब रहें।