युग करवट संवाददाता
गाजियाबाद। लैंड क्राफ्ट के गोल्फ लिंक टावर में प्रदूषित पानी की सप्लाई को लेकर डीएम आरके सिंह द्वारा गठित जांच अभी तक शुरू नहीं हो पाई है। डीएम ने पिछले सप्ताह गुरूवार को दो सदस्य जांच कमेटी का गठन किया था। जांच टीम में दो अधिकारियों को शामिल किया गया था। इनमें एडीएम सिटी और जलकल विभाग के जीएम शामिल है। दोनों ही अधिकारियों को अब इस प्रकरण की जांच करनी है। जांच टीम के गठन को पांच दिन गुजर गए मगर अभी तक डीएम द्वारा गठित टीम जांच तक शुरू नहीं कर पाई है।
गोल्फ लिंक टावर में पिछले सप्ताह गुरूवार को प्रदूषित पानी पीने से कई बच्चे और बड़े बीमार पड़ गए थे। इसके बाद हेल्थ विभाग एक्टिव हुआ। विभाग के डॉक्टर्स ने टावर में ही कई दिनों तक कैंप लगाकर वहां मरीजों का ईलाज किया। इस मामले में डीएम आरके सिंह सीएमओ से भी रिपोर्ट तलब की थी। जांच टीम गठित किए गई दिन गुजर गए है मगर अभी तक डीएम द्वारा गठित टीम ने जांच शुरू नहीं की है। नगर निगम के जलकल विभाग के जीएम आनंद त्रिपाठी और एडीएम सिटी विपिन कुमार के पास भी तक डीएम की ओर से जांच कमेटी में शामिल होने का पत्र नहीं पहुंचा है। माना जा रहा है कि इसी कारण से अभी गोल्फ लिंक में पानी की सप्लाई को लेकर जांच शुरू तक नहीं हो पाई है। माना जा रहा है कि डीएम का पत्र मिलने के बाद ही जांच शुरू होगी।