विभागीय प्रभारियों की स्थिति सुधारने को दिया एक सप्ताह का समय
गाजियाबाद। सरकारी कार्यालयों से गैरहाजिर रहने वाले कर्मचारियों को लेकर डीएम आरके सिंह ने सख्त रूख अपनाया है। डीएम ने कार्यालय प्रभारियों को कड़े निर्देश दिए हैं कि एक सप्ताह के अंदर स्थिति में सुधार लाएं और सुबह दस बजे तक हर हाल में सभी अधिकारी व कर्मचारी कार्यालय में उपस्थित हों। जो कर्मचारी विभाग से गायब मिलेगा, उसके खिलाफ कड़ी कार्रवाई की जाएगी। आईजीआरएस पोर्टल पर दर्ज शिकायतों को भी समय पर निस्तारित करने के निर्देश दिए हैं।
डीएम आरके सिंह ने आज ऑनलाइन विभागीय अधिकारियों के साथ बैठक की। बैठक में डीएम ने समय से अधिकारियों व कर्मचारियों के विभाग में उपस्थिति ना होने और हाजिरी लगाने के बाद विभाग से गायब रहने पर नाराजग़ी जताई। डीएम ने स्पष्टï चेतावनी दी है कि अगर एक सप्ताह में स्थिति में सुधार नहीं हुआ तो खुद वह विभागों में पहुंचकर उपस्थिति की जांच करेंगे और गैरहाजिर कर्मचारियों पर कार्रवाई करेंगे। आईजीआरएस पोर्टल पर उन्होंने लंबित एवं डिफॉल्टर श्रेणी की शिकायतों की समीक्षा भी की। जांच में पाया गया कि नगर निगम की ११२, डीआईओएस की ४२, सीएमओ कार्यालय की १७, डूडा की १३, उपश्रम आयुक्त की ८, विद्युत की १७ सहित अन्य विभागों की कुल २५८ शिकायतें डिफॉल्टर श्रेणी में आईजीआरएस पोर्टल पर लंबित हैं। डीएम ने इस मामले को लेकर विभागीय अधिकारियों के प्रति असंतोष व्यक्त करते हुए प्राथमिकता पर शिकायतों के निस्तारण के निर्देश दिए हैं। डीएम ने अधिकारियों को निर्देशित किया है कि वह स्वयं अपने कार्यालय में समय से पहुंचकर आईजीआरएस पोर्टल की लंबित शिकायतों की समीक्षा करें और उनका निस्तारण कराएं। अगर शिकायत लंबित रहीं तो संबंधित अधिकारी के खिलाफ कार्रवाई की जाएगी।