युग करवट संवाददाता
ग्रेटर नोएडा। राष्ट्रीय गुर्जर स्वाभिमान संघर्ष समिति की एक बैठक जिला पंचायत के पूर्व सदस्य आनंद नगर के आवास पर संपन्न हुई। बैठक में उपस्थित लोगों ने 25 नवंबर को जेवर में होने वाली प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी व मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ की रैली का बहिष्कार कर काले झंडे दिखाने जाने का निर्णय लिया। बैठक में जेवर एयरपोर्ट का नाम गुर्जर सम्राट मिहिर भोज के नाम पर रखे जाने की मांग मांग भी गुर्जर समाज लोगों ने प्रमुखता से उठाई। स्वाभिमान संघर्ष समिति के संयोजक रणवीर चंदीला व राष्ट्रीय गुर्जर स्वाभिमान संघर्ष समिति की एक बैठक जिला पंचायत के पूर्व सदस्य आनंद नगर के आवास पर संपन्न हुई। बैठक में उपस्थित लोगों ने 25 नवंबर को जेवर में होने वाली प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी व मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ की रैली का बहिष्कार कर काले झंडे दिखाने जाने का निर्णय लिया। बैठक में जेवर एयरपोर्ट का नाम गुर्जर सम्राट मिहिर भोज के नाम पर रखे जाने की मांग मांग भी गुर्जर समाज लोगों ने प्रमुखता से उठाई। स्वाभिमान संघर्ष समिति के संयोजक रणवीर चंदीला व रविंद्र भाटी ने बताया कि इस बैठक में गुर्जर समाज के अपमान पर लोगों ने रोष व्यक्त किया। उन्होंने कहा कि प्रदेश के मुखिया ने गुर्जरों के गौरवशाली इतिहास को धूमिल करने का कार्य किया है जिसका बदला गुर्जर समाज संगठित होकर वोट की चोट करके देगा। उन्होंने कहा कि प्रधानमंत्री और मुख्यमंत्री गुर्जर समाज की भावनाओं को ध्यान में रखते हुए जेवर एयरपोर्ट का नाम गुर्जर सम्राट मिहिर भोज के नाम पर रखें और मुख्यमंत्री गुर्जर समाज से माफी मांगे। उन्होंने कहा कि यदि ऐसा नहीं हुआ तो गुर्जर समाज कड़ा विरोध करेगा। बैठक की अध्यक्षता चौधरी भूले सिंह नागर ने व संचालन महाशय टीकम सिंह नागर ने की। बैठक में यूपी के सभी जिलों के गुर्जर समाज के प्रतिनिधि शामिल हुए। इस अवसर पर प्रवेश गुर्जर, योगेश प्रताप सिंह, कैप्टन राज सिंह, आनंद नागर, भूमेश प्रधान, राज सिंह प्रधान, विजयपाल मुखिया, नितिन प्रधान, राकेश कसाना, विरेंद्र नागर, रतिराम, धर्मवीर प्रधान, बिजेंद्र भाटी, बलराज प्रधान, करतार सिंह, यतेंद्र कसाना, रेखा गुर्जर, सीमा भाटी, मनोज मास्टर, राजकुमार प्रधान, तेजसिंह प्रधान सहित अन्य उपस्थित रहें।