नगर संवाददाता
गाजियाबाद (युग करवट)। प्रदेश सरकार द्वारा नगर निकाय चुनाव को लेकर गठित ओबीसी आयोग अब अलर्ट मोड में आ गया है। इसी क्रम में आज गाजियाबाद जिला सभागार में रिटायर्ड आईएएस व पिछड़ा वर्ग आयोग के सदस्य चौब सिंह वर्मा ने मेरठ मंडल के अधिकारियों के साथ बैठक कर ओबीसी वोटर्स की सूची को लेकर चर्चा की। बैठक में आयोग सदस्य का स्वागत बुके देकर गाजियाबाद एडीएम प्रशासन रितु सुहास ने किया। आयोग सदस्य चौब सिंह वर्मा ने जिलेवार अधिकारियों से सूची पर चर्चा की। इस बैठक में वर्ष १९९९ के बाद से अब तक हुए शहरी निकाय के निर्वाचन से निर्वाचित ओबीसी सदस्यों की संख्यावार, निकायवार, चुनाववार संख्या की सूची हर जिले से तलब की गई है। इसके अलावा ट्रांसजेंडर का व्यापक सर्वेक्षण कराकर सम्पूर्ण सूचना एकत्रित कर सूची मांगी गई तो वहीं जिलेवार अन्य पिछड़ा वर्ग की आर्थिक, शैक्षणिक स्थिति पर भी विचार किया गया। बैठक में सभी जिलों के निकायवार ओबीसी आरक्षण की सूची पर चर्चा भी की गई। बता दें कि ३१ मार्च तक पिछड़ा वर्ग आयोग के सभी सदस्य अपनी रिपोर्ट सौंपेंगे। इसके क्रम में आज यह महत्वपूर्ण बैठक मेरठ मंडल के जिलों की गई है। यह बैठक ओबीसी आरक्षण को लेकर बेहद अहम मानी जा रही है। ट्रिपल टेस्ट फॉर्मुले पर काम करते हुए पिछड़ा आयोग अपनी रिपोर्ट शासन को देगा जिसके बाद ओबीसी आरक्षण का फॉर्मूला तय होगा। बैठक में गाजियाबाद के अलावा मेरठ, हापुड़, बुलदंशहर, गौतमबुद्घनगर व बागपत जिले के अधिकारी शामिल हुए। हालांकि इस बैठक में सभी जिलों के डीएम को सम्मिलित होना था जिनके स्थान पर सभी जिलों के एडीएम ने इसमें प्रतिभाग कर सूची प्रस्तुत की।