गाजियाबाद के सांसद रहे, प्रदेश के मुख्यमंत्री रहे, केन्द्र में गृहमंत्री रहे और अब रक्षामंत्री भी हैं, इतना सबके बावजूद राजनाथ सिंह का गाजियाबाद से रिश्ता बहुत मजबूत है। केवल राजनाथ सिंह ही नहीं, उनके पुत्र नोएडा विधायक पंकज सिंह और फिक्की के यूपी यूथ चैप्टर के चेयरमेन नीरज सिंह का भी गाजियाबाद से लगाव किसी से छुपा नहीं हैं। तीनों लोग अपने आवास पर गाजियाबाद के किसी भी व्यक्ति से बड़ी सहजता और अपनेपन से मिलते हैं। मगर कुछ लोग उनकी सरलता का गलत फायदा उठाने का ्रपयास करते हैं। यूं तो ये लोग आसानी से कोई प्रतिक्रिया देते नहीं हैं मगर पानी सिर से ऊपर हो जाए तो कोई क्या करे। गाजियाबाद में लाइनपार क्षेत्र से एक पार्षद हैं, जो पिछला विधानसभा चुनाव भाजपा के बागी के रूप में लड़े थे। उन पर कई तरह के आरोप भी लगते रहते हैं। उन्होनें रक्षामंत्री राजनाथ सिंह से उनके आवास पर मुलाकात करके फोटो ले ली, फिर वो फोटो किसी समाचार पत्र में प्रकाशित करके खबर लगवा ली। यह खबर नीरज सिंह तक भी पहुंच गई। इस घटना के बाद वही पार्षद फिर से मिलने पहुंच गए। अंदाज भी वही पटका लेकर पहनाने का प्रयास, मगर नीरज सिंह ने समाचार पत्र में छपी खबर को लेकर नीरज सिंह ने कड़ी प्रतिक्रिया दी, गुस्से का इजहार भी कर दिया। नीरज सिंह ने साफ संदेश दिया कि जितना सरल और साफ उनका व्यवहार उनके परिवार का है, उतनी ही सरलता से लोग उनसे मिलें। उनसे मिलते समय राजनीति करने का प्रयास न करें, दिल से मुलाकात करें और दिमाग को बाहर रख कर आएं। गाजियाबाद की लोगों के लिए उनके घर के दरवाजे हमेशा खुलें हैं, मगर कोई उसका गलत फायदा उठाने का प्रयास करेगा तो उसे वह बर्दाश्त नहीं करेंगे। यह पार्षद एक बार पहले केन्द्रीय मंत्री और स्थानीय सांसद वीके सिंह के साथ भी ऐसा करने का प्रयास कर चुके थे। तब वहां भी उनकी एंट्री बंद हो गई थी।