युग करवट संवाददाता
गाजियाबाद। गलत मापदंड बनाकर गरीबों एवं जरूरतमंदों से राशन कार्ड सरेंडर कराए जाने के विरोध में महानगर कांग्रेस कमेटी ने आज कलक्ट्रेट पर प्रदर्शन किया। प्रदर्शनकारियों ने इस दौरान अपनी मांगों से संबंधित ज्ञापन भी जिलाधिकारी को प्रेषित किया।
कांग्रेसियों का कहना था कि समस्त उत्तर प्रदेश में जिला आपूर्ति अधिकारियों द्वारा राशन कार्ड वापस करने और पूर्व में राशन की रिकवरी के लिए आदेश दिए गए हैं, यह आदेश खाद्य सुरक्षा कानून के खिलाफ हैं। कांग्रेसियों ने इसे गरीबों एवं जरूरतमंदों पर सरकार का अत्याचार करार दिया। कांग्रेसियों का कहना कि भाजपा लोगों से अच्छे दिन लाने का वायदा करके शासन में आई थी। उत्तर प्रदेश चुनाव में लाभ लेने के लिए सरकार ने गरीबों को मुफ्त में राशन दिया, लेकिन चुनाव समाप्त होने के बाद सरकार गरीबों से अन्न का अधिकार भी छीन रही है। कांग्रेसियों की मांग थी कि यूपी सरकार इस मनमानी प्रक्रिया पर तुरंत रोक लगाए। इस दौरान आशुतोष गुप्ता, लेखराज त्यागी, महेन्द्र कुमार, मनीषा, रिपुंजय ओझा, हिमांयू मिर्जा, सुनील शर्मा, प्रमोद कुमार एडवोकेट, ओमदत्त गुप्ता, उज्जवल गर्ग, इस्माइल खां, बाबूराम आर्या, पंकज तेजानिया, जयवीर सिंह, अशोक धनकर, राजीव गुप्ता, पार्षद जाकिर सैफी, मनोज शर्मा, पूर्व पार्षद हीरालाल जाटव समेत बड़ी संख्या में कांग्रेसी मौजूद रहे।