नगर संवाददाता
गाजियाबाद (युग करवट)। गणतंत्र दिवस की परेड में उत्तर प्रदेश के विकास के मॉडल को दर्शाते झांकी शामिल होगी। इस झांकी में अयोध्या में श्रीराम मंदिर प्राण प्रतिष्ठा समारोह की झलक भी दिखाई देगी। झांकी के फं्रट में मंदिर जैसे बेस पर स्थापित रामलला की सुंदर प्रतिमा को लिया गया है। ट्रेलर पर सर्वप्रथम कलश के प्रतीक के साथ दो साधुओं को दिखाया गया है।
जो प्रयागराज में होने वाले माघ मेले एवं 2025 में होने वाले महाकुंभ का प्रतीक है। नीचे फ्रिल के ऊपर लोअर एरिया में प्रभु राम के अयोध्या आगमन के प्रतीक स्वरूप होने वाले दीपोत्सव को दिखाया गया है। इसके साथ दुनिया के चौथे सबसे बड़े इंटरनेशनल एयरपोर्ट जेवर एयरपोर्ट, नोएडा में एशिया की सबसे बड़ी मोबाइल मैन्युफैक्चरिंग फैक्ट्री और मोबाइल को उत्तर प्रदेश के मोबाइल मैन्यूफैक्चरिंग का हब बनने के प्रतीक के तौर पर लिया गया है। झांकी के पीछे निर्माणाधीन एक्सप्रेसवे और बन चुके एक्सप्रेसवेे को भी दर्शाया गया है। ट्रैक्टर पर साधुओं के बाद रैपिड रेल का मॉडल है, गाजियाबाद से दुहाई तक संचालित रैपिड रेल सेवा का देश में सर्वप्रथम आगमन उत्तर प्रदेश में हुआ है। सबसे अंत में रैपिड रेल के ऊपर से निकलती हुई ब्रह्मोस मिसाइल को दिखाया गया।