खेल मैदान से लेकर पार्कों में भी तैनात हुई पुलिस
नगर संवाददाता
गाजियाबाद (युग करवट)। अग्निपथ योजना को लेकर जिला प्रशासन और पुलिस कोई कोताही नहीं बरत रही है। इसके लिए जिले के सभी खेल मैदानों से लेकर पार्कों में पुलिस तैनात की गई हैं, जहां बड़ी संख्या में युवा खेल या सेना की तैयारी करने के लिए जुटते हैं। सूत्रों की मानें तो प्रशासन के पास कुछ गांवों को लेकर इनपुट मिला है, जिसे लेकर सख्ती बरती जा रही है। दरअसल इन गांवों के पास बने मैदानों पर भी बड़ी संख्या में युवा सेना में जाने की तैयारी करते हैं, तो वहीं खेलों में भी प्रतिभाग करने के लिए युवा यहां पहुंचते हैं। इस इनपुट के आधार पर पुलिस प्रशासन इन गांवों को लेकर खासा सचेत है। यहां तक की देर रात से फोर्स को भी यहां तैनात किया गया है, साथ ही पुलिस और प्रशासन के अधिकारी भी निगरानी किए हुए हैं। इसके अलावा सुरक्षा के चलते सभी एडीएम, एसडीएम व एसीएम अपने-अपने आंवटित क्षेत्रों में पुलिस अधिकारियों के साथ भ्रमण पर रहेंगे। वहीं, संवदेनशील क्षेत्रों में विशेष सर्तकता बरती जा रही है। बता दें कि महामाया स्टेडियम के सामने सबसे पहले प्रदर्शन हुआ था, जिसके बाद से यहां पुलिस तैनात कर दी गई है। अब यहां आने वाले हर खिलाड़ी के आईकार्ड या पहचान पत्र जांचने के बाद ही उसे प्रवेश की अनुमति दी जा रही है। इसके अलावा नेहरू किक्रेट स्टेडियम, जवाहर लाल नेहरू स्टेडियम सहित विभिन्न खेल मैदानों पर चेकिंग की जा रही है। सूत्रों की मानें तो जिले में कुछ बाहरी तत्वों के आवागमन का भी इनपुट प्रशासन के पास है, जिसके मद्देनजर सभी खेल मैदानों व पार्कों में फोर्स की तैनाती कर दी गई है। इस संदर्भ में डीएम आरके सिंह ने बताया कि अग्निपथ योजना को लेकर चल रहे प्रदर्शन के चलते सुरक्षा में किसी प्रकार की कोई ढील नहीं दी जाएगी। इतना ही नहीं खेल मैदान पर तैनात किए गए अधिकारी युवाओं को योजना के बारे में बता रहे हैं। साथ ही उन्हें समझाया जा रहा है कि प्रदर्शन करने, तोडफ़ोड़ करने पर उनका कैरियर तक खराब हो सकता है। युवा पहले योजना के बारे में सही से जानें और अगर कुछ समझ न आए तो अधिकारियों से पूछें। अगर प्रदर्शन करना है तो शांतिपूर्वक करें। हिसंक प्रदर्शन को किसी भी सूरत में बर्दाश्त नहीं किया जाएगा।