नगर संवाददाता
गाजियाबाद (युग करवट)। संजयनगर स्थित नॉर्दन इंडिया टैक्सटाइल रिसर्च एसोसिएशन (निट्रा) ने अपना १७वां दीक्षांत समारोह हर्षोल्लास से मनाया। इस मौके पर पाठ्यक्रम पूरा कर चुके ७० छात्रों को डिग्री प्रदान की गई और टॉपर छात्रों को मेडल व प्रशस्त्रि पत्र देकर सम्मानित किया गया। कार्यक्रम का शुभारंभ मुख्य अतिथि वस्त्र आयुक्त आईए, एएस रूपराशि जोनाक निटिंग मशीन्स के एमडी राजकुमार जैन, नितिन स्पिनर्स लिमिटेड के एमडी दिनेश नोलखा, पशुपति स्पिनिंग एंड वीविंग मिल्स के एमडी विदित जैन ने संयुक्त रूप से दीप प्रज्ज्वलित कर किया। निट्रा के महानिदेशक अरिन्दम बासु ने वस्त्र उद्योग में प्रशिक्षित कामगारों की आवश्यकता को देखते हुए निट्रा ने लघुकालिक प्रशिक्षण कार्यक्रम शुरू किए हैं, जिसमें अब तक ३२०० से अधिक छात्रों को प्रशिक्षित कर उन्हें रोजगार भी दिलया गया है। इसके अलावा देश की बेहतरीन कम्पनियों में भी निट्रा से प्रशिक्षण प्राप्त किए गए छात्र कार्यरत हैं, जो गौरव की बात है। मुख्य अतिथि वस्त्र आयुक्त रूपराशि ने कहा कि भारतीय वस्त्र एवं परिधान उद्योग देशवासियों को रोजगार की अपार संभावनाएं प्रदान करता है। उन्होंने छात्रों से आग्रह किया वे सिर्फ किताबी ज्ञान तक ही सीमित न रहें, बल्कि अपने खुद के इनोवेशन तैयार करें, नई तकनीक इजाद करें ताकि देश इस उद्योग में दुनिया में अपनी धाक जमा सके। अपने आइडिया अपने सीनियर को दें, ताकि देश का वस्त्र उद्योग नाम कमा सके। वस्त्र आयुक्त ने कहा कि निट्रा संस्थान कोविड काल में दूसरा ऐसा संस्थान बनकर उभरा, जिसने सबसे अधिक पीपीई किट और मास्क तैयार कराए। उन्होंने बताया कि वस्त्र एवं परिधान उद्योग औद्योगिक उत्पादन, एक्सपोर्ट अर्निंग एवं जीडीपी में महत्वपूर्ण योगदान देता है। सत्र २०२१ के पाठ्यक्रम को सफलता पूर्वक पूरा करने वाले छात्रों को अतिथियों द्वारा प्रशस्त्रि पत्र प्रदान किए गए। बैच में टॉप करने वाले हिमांशु, अनुभव सिंह, मुस्कान, श्रुति यादव, अमन, अमित पाण्डे को मेडल प्रदान किए गए। अंत में निट्रा लैब्स निदेशक डॉ. एमएस परमार ने सभी का आभार जताया। इस अवसर पर वैज्ञानिक अधिकारी संजय गुप्ता सहित अन्य स्टाफ भी मौजूद रहा।