युग करवट ब्यूरो
नई दिल्ली। संसद के लोकसभा में शीतकालीन सत्र की कार्यवाही के दौरान विपक्षी सांसदों ने जमकर हंगामा किया। तवांग मुद्दे पर चर्चा की मांग को लेकर विपक्ष ने हंगामा किया। इस दौरान सदन की कार्यवाही को स्थगित कर दिया गया। वहीं, कांग्रेस अध्यक्ष मल्लिकार्जुन खरगे की टिप्पणी को लेकर भाजपा ने भी संसद में तेवर दिखाए। भाजपा ने खरगे से माफी की मांग की है। केंद्रीय मंत्री पीयूष गोयल ने कहा कि अलवर में सोमवार को खरगे ने अभद्र भाषण दिया था। जिस भाषा का प्रयोग किया गया है वह दुर्भाग्यपूर्ण है। संसद के बाहर भी भाजपा नेताओं ने खरगे को आड़े हाथ लिया है। भाजपा के विरोध के बावजूद खरगे अपने बयान पर कायम हैं। खरगे ने कहा कि मैंने जो कहा वह राजनीतिक रूप से सदन के बाहर था भीतर नहीं। उस पर यहां चर्चा करने की जरूरत नहीं है। ये लोग ‘माफी मांगने वाले लोग’ हैं।