युग करवट संवाददाता
गाजियाबाद। कोरोना काल में अपने अभिभावकों को खोने वाले बच्चों से आज देश के प्रधानमंत्री ने संवाद किया। इस दौरान प्रभावित बच्चों को लैपटॉप व एफडी के प्रमाणपत्र का वितरण भी किया गया। गाजियाबाद में इस कार्यक्रम में सडक़ परिवहन, राजमार्ग एवं नागर विमान केन्द्रीय राज्यमंत्री व सांसद वीके सिंह ने शिरकत की। वितरण से पूर्व पीएम मोदी के संदेश का लाइव प्रसारण सुना गया, जिसमें पीएम मोदी ने बच्चों को आश्वास्त किया कि सरकार उनके हर कदम पर उनका साथ देगी। इसके उपरांत जिले में ६ बच्चों को लैपटॉप और तीन बच्चों को २५-२५ हजार रुपए की एफडी प्रदान की गई।
इस अवसर पर वीके सिंह ने पीडि़त बच्चों से कहा कि उनके अभिभावकों की कमी को कभी पूरा नहीं किया जा सकता है, लेकिन कोरोना काल में अपने अभिभावकों को खो चुके बच्चों के लिए केन्द्र स्तर पर व्यवस्था की गई है जिसमें पीएम केयर फंड बनाया गया है। इस फंड से ऐसे बच्चों को समय-समय पर मदद दी जाएगी। इसमें पढ़ाई के लिए स्कॉरलशिप, २३ साल उम्र होने पर दस लाख रुपए उनके खाते में, अगर यह बच्चे तकनीकी शिक्षा में लोन चाहते हैं तो इस फंड में लोन की व्यवस्था भी है। हेल्थ सुविधा के लिए सभी बच्चों का आयुष्मान कार्ड बनाया गया है ताकि बच्चों को बीमार होने पर किसी के आश्रित न रहना पड़े।
वीके सिंह ने कहा कि इस फंड का उद्देश्य यही है कि इन बच्चों को बताया जा सके कि पूरा देश उनके साथ है। हर कदम पर उनकी हर मुश्किल में जिले के सांसद, विधायक से लेकर अधिकारी भी उनकी मदद करेंगे। वहीं डीएम आरके सिंह ने बताया कि पीएम केयर फंड के तहत १० बच्चों को पूर्व में लैपटॉप वितरित किए गए हैं। जो बच्चे उच्च कक्षा में पहुंचेंगे उन्हें भी लैपटॉप दिए जाएंगे। बच्चों की शिक्षा सही प्रकार से हो इसके लिए प्रशासन प्रयासरत है। इस मौके पर जिला पंचायत अध्यक्ष ममता त्यागी, सीडीओ विक्रमादित्य मलिक, डीपीओ विकास चंद्र आदि मौजूद रहे।