गाजियाबाद। कोरोना जैसी महामारी से आमजनों को बचाते-बचाते कोरोना वॉरियर एसआई कपिल कुमार मेरठ के कैलाशी अस्पताल में कई दिनों तक जिं़दगी और मौत के बीच संघर्ष करते हुए आखिरकार हार गये। मुरादनगर थाने की गंगनहर चौकी प्रभारी रहे २०१५ बैच के दरोगा कपिल कुमार की मौत की सूचना मिलते ही जहां उनके परिवार पर गमों का पहाड़ टूट पड़ा वहीं पुलिस महकमे में भी शोक की लहर दौड़ गई। उनकी असामयिक मौत से दुखी एसपी देहात डॉक्टर इरज राजा ने बताया कि कपिल कुमार कोरोना की चपेट में आकर १७ अपै्रल को मेरठ के कैलाशी अस्पताल में भर्ती हुए थे। कल यानि ३० अपै्रल को उपचार के दौरान उनका देहांत हो गया। श्री राजा ने बताया कि वह कर्तव्यनिष्टï एवं ईमानदार पुलिस अधिकारी थे। उनके पारिवारिक सूत्रों की मानेंतो उनकी पत्नी भी गुर्दा रोग से पीडि़त हैं। युग करवट परिवार इस दुख की घड़ी में जहां शहीद दरोगा कपिल कुमार के परिवार के गम में शरीक है वहीं ईश्वर से प्रार्थना करता है कि कपिल कुमार की आत्मा को शांति एवं परिजनों को यह दुख सहने की शक्ति प्रदान करें।