युग करवट संवाददाता
गाजियाबाद। सरकारी विभागों में कार्य करने वाले कर्मचारियों के लिए एक बड़ी खबर। अगर कोई कर्मचारी कोरोना संक्रमण से पीडि़त होता है तो उन्हें अब एक महीने का अवकाश दिया जाएगा। वर्ष 2005 अवकाश संशोधन एक्ट में बदलाव करते हुए प्रदेश सरकार की ओर से सरकारी कर्मचारियों को यह राहत दी गई है। कोरोना संक्रमण के दौरान अभी तक यह सुविधा नहीं दी गई थी। इससे पहले पिछले दो वर्षों के दौरान सरकारी विभागों में कार्य करने वाले कर्मचारियों को सीधे एक महीने के लिए अवकाश नहीं दिया जाता था। ऐसे कर्मचारी जो कोरोना संक्रमण से ग्रस्ति हो गए उनको अपनी आरटीपीसीआर रिपोर्ट विभागाध्यक्ष को देनी होती है। इसके बाद मैडिकल ग्राउंड के आधार पर अवकाश दिया जाता था। मगर अभी तक ऐसा कोई प्रावधान नहीं था कि कोरोना संक्रमित होते ही एक महीने का अवकाश स्वीकार हो जाएगा।