युग करवट ब्यूरो
नई दिल्ली। वायु प्रदूषण के नाम पर वाहनों पर प्रतिबंध लगाने के फैसले को लेकर आम आदमी पार्टी की सरकार के खिलाफ चालकों और वाहन मालिकों का आक्रोश बढ़ता जा रहा है। यही नहीं, अब इस फैसले के खिलाफ विरोध दर्ज कराने की भी तैयारी तेज हो गई है। दिल्ली टैक्सी एंड टूरिस्ट ट्रांसपोर्टर एसोसिएशन ने वायु प्रदूषण के नाम पर वाहनों के परिचालन पर प्रतिबंध के विरोध में दिल्ली व पंजाब में सडक़ जाम की धमकी दी है। ट्रांसपोर्टरों ने इसके पहले अक्टूबर माह में इस तरह के प्रतिबंध के खिलाफ मुख्यमंत्री आवास का घेराव किया था। तब दिल्ली नगर निगम चुनाव को देखते हुए सरकार ने प्रतिबंध से फैसला वापस ले लिया था। डीटीटीटीए के अध्यक्ष संजय सम्राट ने कहा कि दिल्ली में प्रदूषण के नाम पर हजारों गरीब टैक्सी व टेंपो ट्रेवलर के मालिकों के सामने आर्थिक संकट गहरा गया है। दिल्ली सरकार ने डीजल यूरो- 4 गाडिय़ों और पेट्रोल की यूरो- 3 गाडिय़ों को चलने पर रोक लगा दी है। यह फैसला अपनी नाकामियों को छुपाने के लिए है। पहले केजरीवाल सरकार द्वारा पंजाब पर प्रदूषण का ठीकरा फोड़ा जाता था। अब वहां भी आप की सरकार है। इसलिए अब निर्माण मजदूरों के साथ ही वाहन चलाकर रोजीरोटी कमाने वालों को निशाना बनाया जा रहा है।