युग करवट संवाददाता
गाजियाबाद। केंद्र सरकार के बाद अब यूपी की योगी सरकार भी अन्य पिछड़े वर्ग को लुभाने के लिए कई घोषणाएं करने जा रही है। इनमें सरकारी और दूसरे महकमें में ओबीसी कैटगरी के लोगों की भर्ती और ओबीसी जाति में अन्य जातियों को शामिल करना भी शामिल है। 39 जातियों को अन्य पिछड़ी जातियों (ओबीसी) की सूची में शामिल करने की तैयारी कर रही है। 24 जातियों का सर्वेक्षण पहले ही पूरा हो चुका है और आने वाले दिनों में 15 जातियों का सर्वेक्षण के बाद उन्हें ओबीसी में शामिल कर लिया जाएगा। अगले साल होने वाले विधानसभा चुनाव से पहले भाजपा ओबीसी समाज पर पूरी तरह पकड़ बनाने की जुगत में है। इसी के तहत प्रदेश की योगी सरकार ओबीसी समाज के लिए कई घोषणाएं करने जा रही हैं।
जानकारी के अनुसार, योगी आदित्यनाथ सरकार राज्य में 39 जातियों को अन्य पिछड़ी जातियों की सूची में शामिल करने की तैयारी कर रही है। 39 जातियों में से 24 जातियों का सर्वेक्षण पहले ही पूरा हो चुका है और आने वाले दिनों में 15 जातियों का सर्वेक्षण पूरा कर लिया जाएगा। इसके लिए राज्य पिछड़ा वर्ग आयोग जल्द ही इस संबंध में उत्तर प्रदेश सरकार को सिफारिश करेगा। यह जानकारी आयोग के अध्यक्ष जसवंत सैनी ने दी। इन 39 जातियां में- वैश्य, जायस्वर राजपूत, रूहेला, भूटिया, अग्रहरी, दोसर, मुस्लिम शाह, मुस्लिम कायस्थ, हिंदू कायस्थ, कोर क्षत्रिय राजपूत, दोहर, अयोध्यावासी वैश्य, बरनवाल, कमलापुरी वैश्य, केसरवानी वैश्य, बगवां, भट्ट, उमर बनिया, महौर वैश्य, हिंदू भाट, गोरिया, बॉट, पंवरिया, उमरिया, नोवाना और मुस्लिम भट। इन सब को सरकार ओबीसी की सूची में डालने की तैयारी कर रही है।
आयोग विश्नोई, खार राजपूत, पोरवाल, पुरुवर, कुंदर खराड़ी, बिनौधिया वैश्य, माननीय वैश्य, गुलहरे वैश्य, गढ़ैया, राधेड़ी, पिठबाज आदि जातियों की पात्रता देखने के लिए उनका सर्वेक्षण भी करेगा। अध्यक्ष ने बताया कि प्रतिनिधित्व के आधार पर जाति सर्वेक्षण का कार्य किया जा रहा है। 3 सर्वे के बाद ही फाइनल लिस्ट तैयार की जाएगी।
इसके अलावा ओबीसी समाज के लोगों को सरकार और दूसरे विभागों में भी महत्वपूर्ण जगह देने की तैयारी चल रही है। जल्द ही निगम और दूसरे विभागों में ओबीसी समाज से जुड़े लोगों की नियुक्ति होगी। हाल ही में केंद्र सरकार ने पिछड़ा वर्ग आयोग को संवैधानिक मान्यता दी थी। इसके साथ ही मोदी सरकार के फेरबदल में 27 ओबीसी मंत्रियों को शामिल किया गया।