युग करवट संवाददाता
गाजियाबाद। सड़क परिवहन एवं राजमार्ग केंद्रीय राज्यमंत्री वीके सिंह ने आज जिले में पांच नए ऑक्सीजन प्लांट का शुभारंभ किया। इसमें जिले में सबसे बड़ा ऑक्सीजन प्लांट भी शामिल है जिसकी क्षमता एक हजार एलपीएम है। यह प्लांट पीएम केयर फंड से स्थापित किया गया है। केंद्रीय मंत्री वीके सिंह ने सबसे पहले पीएम केयर फंड से बनाए गए जिला अस्पताल में एक हजार एलपीएम के प्लांट का शुभारंभ फीता काटकर व विधिवत नारियल फोड़कर किया। इस दौरान उन्होंने कहा कि कोरोना की तीसरी लहर कितनी खतरनाक होगी या नहीं, इसका पता नहीं लेकिन सरकार का उद्देश्य है कि हम कोरोना संक्रमण से निबटने के लिए पूरी तरह से तैयार हों। जिले में सभी स्थानों पर ऑक्सीजन प्लांट शुरू हो चुके हैं। ऐसे में भविष्य में जिले में ऑक्सीजन की कमी आपदा के दौर में नहीं होगी। संचारी रोगों की रोकथाम के लिए भी उन्होंने कहा कि इसके लिए पूरी प्लानिंग से काम किया जा रहा है। इसके बाद उन्होंने संयुक्त अस्पताल में बने दूसरे ऑक्सीजन प्लांट का शुभारंभ किया। संयुक्त अस्पताल में ५०० एलपीएम का प्लांट है। यहां पूर्व में भी एक प्लांट स्थापित किया गया था। यह प्लांट भी पीएम केयर फंड से बनाया गया है। इसके सांसद वीके सिंह ने मुरादनगर सीएचसी पर २०० एलपीएम, डासना में बने ३३० एलपीएम और वसुंधरा सेक्टर-१५ के क्लेयरमेडी अस्पताल एंड कैंसर सेेंटर में बने ऑक्सीजन प्लांट का भी शुभारंभ किया। वहीं इस अवसर पर राज्यमंत्री स्वास्थ्य मंत्री अतुल गर्ग को भी शामिल होना था लेकिन अन्य किसी कार्यक्रम में जाने के चलते उनके प्रतिनिधि राजेन्द्र मित्तल मेंदी वाले उद्घाटन कार्यक्रम में शामिल हुए और नारियल फोडकर प्लांट का शुभारम्भ किया। इस दौरान डीएम आरके सिंह, सीडीओ अस्मिता लाल, सीएमओ डॉ. भवतोष शंखधर, एसीएम द्वितीय विनय कुमार, एसीएमओ डॉ. विश्राम सिंह, जिला अस्पताल सीएमएस डॉ. अनुराग भार्गव, सीएमएस डॉ. संजय तेवतिया, डीडीओ भालचंद्र त्रिपाठी, कुलदीप चौहान आदि मौजूद रहे। वहीं, संयुक्त जिला अस्पताल में ऑक्सीजन प्लांट का शुभारंभ करने पहुंचे केंद्रीय राज्यमंत्री वीके सिंह से मरीज ने इलाज ना मिलने की शिकायत की। मुरादनगर निवासी ने शिकायत की कि उसकी पत्नी पिछले कई दिन से बीमार है लेकिन उसे सिर्फ जांच के नाम पर डॉक्टर इधर से उधर घूमा रहे हैं लेकिन इलाज उपलब्ध नहीं करा रहे जिसकी वजह से पत्नी की हालत दिन पर दिन बिगड़ती जा रही है। वीके सिंह ने अस्पताल के सीएमएस को तत्काल मरीज को समुचित इलाज उपलब्ध कराए जाने के निर्देश दिए व पीडि़त को हर संभव मदद का भरोसा जताया।