युग करवट ब्यूरो
नई दिल्ली। तीनों केंद्रीय कृषि कानूनों को पास हुए एक साल से पूरे हो गए हैं। एक साल पूरे होने पर शिरोमणि अकाली दल के नेतृत्व में किसानों ने शुक्रवार को दिल्ली मार्च किया। यह मार्च संसद तक निकाला गया। मार्च के मद्देनजर दिल्ली पुलिस ने कई जगहों पर बैरिकेडिंग की। जिससे जगह-जगह रास्ते बंद हैं। नई दिल्ली में तो धारा 144 लागू कर दी गई है। वहीं, अकाली दल के कार्यकर्ताओं का रकाबगंज गुरुद्वारा से संसद भवन तक मार्च जारी है। इस मार्च में पंजाब के पूर्व उपमुख्यमंत्री और अकाली दल नेता सुखबीर सिंह बादल भी शामिल हैं। पूर्व केंद्रीय मंत्री हरसिमरत कौर भी शिरकत की। मार्च को लेकर दिल्ली-एनसीआर के विभिन्न मार्गों पर डायवर्जन करने के साथ सुरक्षा भी कड़ी गई है। इसके कारण दिल्ली में जगह-जगह जाम लगा हुआ है। दिल्ली यातायात पुलिस ने झाड़ोदा कलां बार्डर को किसान आंदोलन की वजह से बैरिकेडिंग लगा कर बंद कर दिया है। वहीं संसद मार्च को देखते हुए गाजियाबाद, दिल्ली, गाजीपुर सीमा पर सुरक्षा के कड़े प्रबंध किये गये। हालांकि इस मार्च में भारतीय किसान यूनियन से जुड़े किसान शामिल नहीं हुए। ज्यादातर किसान पंजाब और हरियाणा के थे।