युग करवट संवाददाता
गाजियाबाद। किसान आंदोलन के छह माह पूरे होने पर किसान काला दिवस मना रहे हैं। इसी कड़ी में भारतीय किसान यूनियन लोकशक्ति के प्रदेश सचिव केशव चौधरी के नेतृत्व में एनएच-९ स्थित सैन विहार में तीनों कृषि कानूनों की प्रतियां जलाकर काला दिवस मनाया गया।
केशव चौधरी ने कहा है कि आज 26 मई को किसान आंदोलन को 6 माह पूरे हो चुके हैं, पंरतु सरकार चुप्पी साधे हुए है। किसानों की फसल का उचित मूल्य नहीं मिलने से किसानों के लिए हर दिन काला दिवस के ही समान है। प्राकृतिक आपदाओं से किसान बेहाल रहता है लेकिन फिर भी सरकार किसानों की सुनने को तैयार नहीं है। देश के किसानों ने भाजपा सरकार को वोट दिया है लेकिन आज वही सरकार किसानों के मन की बात सुनने और समझने को तैयार नहीं है। किसान इस सरकार में अपने अच्छे दिनों का इंतजार कर रहे हैं। सरकार की नीतियों व कृषि कानूनों को वापस ना लिए जाने के विरोध में काला दिवस मनाया गया और काले झंडे लहराए गए। इस दौरान युवा प्रदेश मंत्री गौरव यादव, महेंद्र मिश्रा, जिला अध्यक्ष योगेश शर्मा, जिला प्रवक्ता अनुज चौधरी, विनीत त्यागी, तैयब अली, अरीफ व शिवम शुक्ला आदि मौजूद रहे।