युग करवट संवाददाता
नोएडा। थाना दादरी क्षेत्र के चिटैहरा गांव में दलितों व गरीबों के सरकारी पट्टे में हुए अरबों के घोटाले के मामले में दादरी के लेखपाल ने थाना दादरी में कुख्यात भू-माफिया यशपाल तोमर सहित आठ लोगों के खिलाफ विभिन्न धाराओं में मुकदमा दर्ज कराया है। घटना की रिपोर्ट दर्ज कर पुलिस मामले की जांच कर रही है। पुलिस आयुक्त आलोक सिंह के मीडिया प्रभारी पंकज कुमार ने बताया कि चिटैहरा गांव में दलितों और गरीबों को पट्टा देने में भारी घोटाला हुआ। कुख्यात भू-माफिया यशपाल तोमर ने राजस्व विभाग के लोगों के साथ सांठगांठ करके गरीबों के पट्टे अपने नाम करवा लिए, तथा करोड़ों की जमीन हड़प ली। उन्होंने बताया कि इस मामले की जिलाधिकारी गौतमबुद्ध नगर द्वारा जांच करवाई गई। जांच के बाद घोटाला सामने आया, तथा लेखपाल शीतला प्रसाद ने बीती रात को थाना दादरी में कुख्यात भू-माफिया यशपाल तोमर, कृष्णपाल, मैकू, गिरीश वर्मा सहित आठ लोगों के खिलाफ विभिन्न धाराओं में मुकदमा दर्ज कराया है। उन्होंने बताया कि घटना की रिपोर्ट दर्ज कर पुलिस मामले की जांच कर रही है।
इस मामले में जनपद गौतमबुद्ध नगर के जिलाधिकारी सुहास एलवाई ने यशपाल तोमर को भू-मिफिया घोषित कर दिया है। यशपाल को मेरठ जिला प्रशासन ने भी भू-माफिया घोषित किया है। इसे प्रदेश स्तर का भू-माफिया घोषित करने के लिए शासन को रिपोर्ट भेजी गई है। मौजूदा समय में यशपाल तोमर देहरादून की जेल में बंद है। इसे हरिद्वार पुलिस ने धोखाधड़ी के मामले में गिरफ्तार किया था। इसकी करोड़ों की संपत्ति को मेरठ पुलिस ने हाल ही में कुर्क किया है।