युग करवट संवाददाता
गाजियाबाद। प्रदेश के पिछड़ा वर्ग कल्याण एवं दिव्यांगजन सशक्तिकरणा राज्यमंत्री स्वतंत्र प्रभार नरेंद्र कश्यप ने कहा कि पूरे प्रदेश में ईद-उल-फितर, अक्षय तृतीया और भगवान परशुराम जयंती का पर्व शांति और सद्भाव के साथ संपन्न हो गया। त्यौहार हमें शांति और सदभाव के साथ देश की खुशहाली में सहभागिता करने का संदेश देते हैं। चाहे ईद हो या दीवावली, दोनों समुदायों के लोग एक दूसरे को बधाई देते हैं। यहीं हमारी पुरातन संस्कृति है। लेकिन कुछ लोग इस गंगा-जमुनी तहजीब को खराब करने की कोशिशों में हैं। ऐसे लोगों से बचकर रहना है। उन्होंने कहा कि ईद के पावन पर्व पर कुछ लोगों द्वारा सेक्टर-23 में माहौल बिगाडऩे की कोशिशें की गई लेकिन पुलिस की सतकर्ता और क्षेत्र के लोगों द्वारा समझदारी के कारण असमाजिक तत्व अपने मकसद में कामयाब नहीं हो पाए। उन्होंने कहा कि गाजियाबाद में सदियों से दोनों समुदाय के लोग आपसी भाईचारे और एक दूसरे के सुख-दुख में शामिल हो रहे हैं। यहां माहौल बिगाडऩे की कोशिशें कामयाब नहीं होंगी। उन्होंने कहा कि सेक्टर-23 की फिजां को किसी भी सूरत में बिगडऩे नहीं दिया जाएगा। पुलिस और प्रशासनिक अधिकारी सर्तक है। माहौल को बिगाडऩे की कोशिश करने वाले असमाजिक तत्वों को करारा जवाब दिया जाएगा।