युग करवट संवाददाता
गाजियाबाद। संयुक्त किसान मोर्चा के आहवाह्न पर किसान क्रांति गेट गाजीपुर बॉर्डर पर किसानों ने केन्द्र सरकार व ग्रह राज्यमंत्री का पुतला फूंक कर विरोध जताया। किसान लखीमपुर खीरी में हुई घटना के बाद भी ग्रह राज्यमंत्री को पद से न हटाए जाने के चलते नाराज हैं। लखीमपुर खीरी की घटना में मारे गए चार किसानों के मामले को लेकर किसान चरणवार आंदोलन कर रहे हैं।
आज संयुक्त मोर्चा ने गृह राज्यमंत्री को पद से न हटाए जाने के विरोध में प्रदेश भर में जगह-जगह केन्द्र सरकार व गृह राज्यमंत्री अजय मिश्रा का पुतला जलाया और सरकार से मांग की है कि मामले की निष्पक्ष जांच के लिए राज्यमंत्री को उनके पद से हटाया जाए। लखीमपुर खीरी की घटना में गृह राज्यमंत्री अजय मिश्रा के बेटे आशीष मिश्रा को आरोपी माना जा रहा है जो वर्तमान में इस मामले में जेल में हैं। भाकियू के प्रदेश अध्यक्ष राजवीर सिंह जादौन का कहना है कि जिस गृह राज्यमंत्री का बेटा मुख्य आरोपी हो उस मामले में निष्पक्ष जांच होना सम्भव नही है। मंत्री अपने पद पर रहते हुए जांच को प्रभावित कर सकते हैं जिसकी वजह से पीडि़तों को न्याय नहीं मिल सकेगा।
ऐसे में सरकार को चाहिए कि वह तत्काल प्रभाव से गृह राज्यमंत्री को उनके पद से हटाए ताकि मामले की जांच सही प्रकार से हो सके। किसानों ने गाजीपुर बार्डर पर पुतला दहन कर अपनी मांगे दोहराई। इस दौरान रमेश मलिक, भाकियू जिलाध्यक्ष चौधरी विजेन्द्र सिंह, अशोक घटान सिंह, शामली जिलाध्यक्ष कपिल खाटियान, दिनेश पंडित, पवन खटाना, सुभाष चौधरी, अरविंद चौहान, राहुल यादव, सलीम खान, प्रवीण मलिक आदि सैंकड़ों किसान मौजूद रहे।