नगर संवाददाता
गाजियाबाद (युग करवट)। लखीमपुर खीरी की घटना में सरकार द्वारा किए गए वायदे को पूरा न करने व मंत्री अजय मिश्रा टेनी को हटाए जाने की मांग को लेकर भारतीय किसान यूनियन के राष्टï्रीय प्रवक्ता राकेश टिकैत के आह्वान पर किसानों ने प्रदेश के जिला मुख्यालयों में डेरा डाल दिया है। गाजियाबाद के जिला मुख्यालय में भी किसान गुुरुवार शाम पांच बजे से जमे हुए हैं। किसानों का यह प्रदर्शन ७२ घंटे तक लगातार चलेगा इसके बाद आगे की रणनीति के अनुसार आंदोलन चलेगा। भाकियू के राष्टï्रीय सचिव ओमपाल चौधरी ने बताया कि जब तक उनकी मांगे नहीं मानी जाएंगी, आंदोलन इसी तरह से जारी रहेगा। उन्होंने कहा कि लखीमपुर खीरी में किसानों को गाड़ी से कुचलकर मार दिया गया, लेकिन भाजपा सरकार ने अभी तक मंत्रीमंडल से अजय मिश्रा टेनी को बर्खास्त तक नहीं किया और ना हीं सरकार की ओर से उस पर कोई अन्य कार्रवाई की गई। सरकार ने घटना के समय पीडि़त परिवारों से भी कुछ वायदे किए थे, लेकिन वह भी पूरे नहीं हुए। इस सरकार की कथनी और करनी में अंतर है। लेकिन, अब किसान पीछे नहीं हटेगा और मांग पूरी होने तक इसी तरह से आंदोलन चलता रहेगा। किसान विकास भवन के पार्क में डेरा डाले हुए हैं। कल शाम से लेकर अब तक किसान लगातार धरनास्थल पर पहुंच रहे हैं। किसानों ने बताया कि ७२ तक घंटे वे यहीं रहेंगे। इसके बाद जो भी निर्णय लिया जाएगा, उसके अनुसार ही आंदोलन होगा। धरने में जिला प्रभारी जयकुमार मलिक, उपाध्यक्ष राजेन्द्र चौधरी, स्वामी परविन्दर चौधरी, चेतन त्यागी, सतेन्द्र चौधरी आदि मौजूद रहे।