गाजियाबाद। कोरोना संकट काल में ऑक्सीजन से लेकर दवाओं और जरूरी उपयोग में काम आने वाली वस्तुओं की कालाबाजारी को देखते हुए अब किराना से संबधित वस्तुओं के दामों में भी इजाफा होने लगा है। लगातार इसकी शिकायतें जिला प्रशासन को मिल रही है। संकट काल में मुनाफा कमाने वाले ऐसे दुकानदारों पर लगाम लगाने के लिए अब जिला पूर्ति विभाग द्वारा छापेमारी शुरू की जाएगी। इसके अलए जिले में जिला पूर्ति विभाग की छह टीमों का गठन किया गया है जो अपने निर्धारित क्षेत्रों में किराना की दुकानों की जांच करेंगी। नगर क्षेत्र प्रथम में क्षेत्रीय खाद्य अधिकारी अश्वनी कुमार, नगर क्षेत्र द्वितीय में पूर्ति निरीक्षक गुलशन कुमार भारती, नगर क्षेत्र ट्रांस हिंडन में पूर्ति निरीक्षक प्रियंका राय, मोदीनगर में पूर्ति निरीक्षक रूपल रानी, ब्लॉक रजापुर, नगर क्षेत्र डासना एवं खोडा में पूर्ति निरीक्षक सौम्या पाठक और लोनी में पूर्ति निरीक्षक सत्यप्रकाश मालवीय को तैनात किया गया है। जिला पूर्ति अधिकारी डॉ।सीमा ने बताया कि कोरोना काल में राशन उत्पादों पर दुकानदार अधिक दाम न वसूलें इसकी जांच की जाएगी। अगर कोई दुकानदार निर्धारित दाम से अधिक वसूली करता पाया गया, तो उसके खिलाफ कडी कार्रवाई की जाएगी। डीसीओ ने बताया कि इस तरह की शिकायतें लगातार मिल रही हैं कि दुकानदार किराना की वस्तुओं पर मनमाने दाम वसूल रहे हैं जिसकी वजह से आम जन को खासी दिक्कतों का सामना करना पड रहा है।