नई दिल्ली। अफगानिस्तान की राजधानी काबुल में एयरपोर्ट पर धमाका करने वाले आतंकवादी संगठन इस्लामिक स्टेट ऑफ खुरासन प्रोविंस में केरल 14 लोग शामिल हैं। कहा जा रहा है कि इन लोगों को तालिबान ने बगराम जेल से रिहा किया था। इसके अलावा तुर्कमेनिस्तान के दूतावास पर हमले की कोशिश कर रहे दो पाकिस्तानियों के भी हिरासत में होने की खबर है। काबुल एयरपोर्ट पर हुए धमाके में 13 अमेरिकी सैनिकों समेत 200 से ज्यादा लोगों की मौत हो गई थी। केरल के 14 रहवासी अफगानिस्तान में आईएसकेपी का हिस्सा बने हैं। यह समझा जा रहा है कि इन 14 केरलवासियों में से 13 ने अपने घर से संपर्क साधा था। जबकि, 13 अभी भी फरार हैं। 2014 में मोसुल में कथित इस्लामिक स्टेट का कब्जा होने के बाद मलप्पुरम, कासरगोड़ और कन्नूर जिलों से एक समूह जिहादियों में शामिल होने के लिए भारत छोड़कर भागा था।