नोएडा। बीते विधानसभा चुनाव के दौरान कांग्रेस पार्टी की नीतियों के खिलाफ कार्य करने वाले नोएडा के दो नेताओं को 6 वर्षों के लिए कांग्रेस पार्टी से निष्कासित कर दिया गया है।
यह जानकारी पूर्व विधायक एवं अनुशासन समिति के सदस्य श्याम किशोर शुक्ला ने एक बयान में दी। उन्होंने बताया कि पूर्व पीसीसी सदस्य प्रमोद शर्मा व नोएडा कांग्रेस कमेटी के पूर्व उपाध्यक्ष अशोक शर्मा को पार्टी विरोधी गतिविधियों में शामिल होने के चलते उन्हें कांग्रेस पार्टी से 6 वर्षों के लिए निष्कासित किया गया है। कांग्रेस पार्टी में लंबे समय से अनुशासनिक कार्रवाई लंबित थी। उन्होंने कहा कि चुनाव के समय जानकारी मिली थी कि पार्टी के कुछ पदाधिकारी अन्य पार्टियों के प्रत्याशियों के लिए काम कर रहे हैं व कांग्रेस पार्टी का नुकसान करने का प्रयास कर रहे हैं। ऐसी लोगों पर पार्टी द्वारा कार्रवाई करना आवश्यक था, लेकिन प्रदेश स्तर पर संगठन में बदलाव के चलते इस काम में देरी हो गई। अब जब नए प्रदेश अध्यक्ष व प्रांतीय अध्यक्षों की नियुक्ति हुई तो संगठन को मजबूत करने व पार्टी विरोधी तत्वों को बाहर करने का काम शुरू हो चुका है। आरोप है कि प्रमोद शर्मा और अशोक शर्मा ने विधानसभा चुनाव के दौरान कांग्रेस प्रत्याशी का सहयोग न कर बसपा प्रत्याशी का सहयोग किया था।