नई दिल्ली। नेतृत्व परिवर्तन की उठती मांग के बीच कांग्रेस ने पॉलिटिकल अफेयर ग्रुप और टास्क फोर्स-2024 का गठन कर दिया है। पॉलिटिकल अफेयर ग्रुप में राहुल गांधी को सदस्य बनाया गया है। जबकि टास्क फोर्स 2024 में प्रियंका गांधी को सदस्य के तौर पर शामिल किया गया है। वहीं, भारत जोड़ो यात्रा में दिग्विजय सिंह और सचिन पायलट को जगह दी गई है।
दरअसल, कांग्रेस ने हाल ही में उदयपुर में तीन दिन का चिंतन शिविर बुलाया था। इस दौरान सोनिया गांधी ने कांग्रेस में संगठनात्मक बदलाव की बात कही थी। इतना ही नहीं उन्होंने पॉलिटिकल अफेयर ग्रुप और टास्क फोर्स के गठन का भी ऐलान किया था। सोनिया गांधी ने तत्काल प्रभाव से पॉलिटिकल अफेयर ग्रुप, टास्क फोर्स और सेंट्रल प्लानिंग ग्रुप फॉर भारत जोड़ो यात्रा के गठन का ऐलान किया है।
पॉलिटिकल अफेयर ग्रुप में इन नेताओं को जगह
राहुल गांधी, मल्लिकार्जुन खडग़े, गुलाम नबी आजाद, अंबिका सोनी, दिग्विजय सिंह, आनंद शर्मा, केसी वेणुगोपाल, जितेंद्र सिंह।
टास्क फोर्स में कौन कौन शामिल?
पी चिदंबरम, मुकुल वास्निक, जयराम रमेश, केसी वेणुगोपाल, अजय माकन, प्रियंका गांधी, रणदीप सुरजेवाला, सुनील कानुगोलू।
भारत जोड़ो यात्रा के समन्वय के लिए बनाए गए सेंट्रल प्लानिंग ग्रुप में इन नेताओं को मिली जगह, जिसमें दिग्विजय सिंह, सचिन पायलट, शशि थरूर, रंवीत सिंह बिट्टू, केजे जॉर्ज, जोथी मानी, प्रद्युत बोलदोलोई, जीतू पटवारी, सलीम अहमद हैं।
क्या काम करेगा टास्क फोर्स?
टास्क फोर्स के प्रत्येक सदस्य को संगठन, संचार और मीडिया, आउटरीच, वित्त और चुनाव प्रबंधन से संबंधित काम सौंपा जाएगा। इन सदस्यों के पास अपनी टीमें होंगी। इन्हें लेकर बाद में जानकारी दी जाएगी। ये टास्क फोर्स उदयपुर नव संकल्प घोषणाओं और 6 समूहों की रिपोर्ट के आधार पर काम करेगी।