युग करवट संवाददाता
गाजियाबाद। उदयपुर चिंतन शिविर में बनाई गई रणनीति को अमल में लाने के लिए कांग्रेस पार्टी लखनऊ में दो दिवसीय नव-संकल्प चिंतन शिविर का आयोजन कर रही है। शिविर 1 और 2 जून को आयोजित होगा। शिविर में कांग्रेस की राष्ट्रीय महासचिव एवं यूपी प्रभारी प्रियंका गांधी भी पहुंचेंगी। गाजियाबाद से शिविर में शिरकत करने के लिए जिलाध्यक्ष बिजेन्द्र यादव, पूर्व मंत्री सतीश शर्मा, प्रदेश सचिव नसीम खान समेत कई नेता लखनऊ पहुंचे हैं।
दरअसल, नव-संकल्प शिविर का मकसद उत्तर प्रदेश के विधानसभा चुनाव में मिली करारी हार से कांग्रेस को उबारना और निकाय चुनाव व 2022 में होने वाले लोकसभा चुनाव के लिए पार्टी को मजबूती के साथ खड़ा करना है। हालांकि, वर्तमान में कांग्रेस के पास प्रदेश अध्यक्ष भी नहीं है, ऐसे में शिविर को लेकर तरह-तरह की चर्चाओं का बाजार गर्म है। हां, प्रियंका गांधी के पहुंचने के कारण माना जा रहा है कि वे खुद कांग्रेसियों से बात कर आने वाले समय की रणनीति तैयार करेंगी। शिविर में प्रदेश भर के कांग्रेसी नेताओं को प्रदेश कांग्रेस कमेटी कार्यालय बुलाया गया है।
उत्तर प्रदेश कांग्रेस कमेटी के पदाधिकारी, जिला एवं महानगर अध्यक्ष, पूर्व विधायक एवं सांसद, विधानसभा चुनाव में कांग्रेस के उम्मीदवार रहे नेता, फ्रंटल संगठनों एवं विभागों के अध्यक्ष एवं मीडिया विभाग से जुड़े प्रवक्ता सभी जनपदों से लखनऊ पहुंच रहे हैं। गाजियाबाद जनपद से भी कई वरिष्ठ नेता और कांग्रेस के पदाधिकारी इस शिविर में हिस्सा लेने के लिए प्रदेश कांग्रेस कमेटी कार्यालय लखनऊ पहुंचे हैं।