वरिष्ठ संवाददाता
नई दिल्ली। नेशनल हेराल्ड मामले में कांग्रेस के पूर्व राष्ट्रीय अध्यक्ष राहुल गांधी की लगातर ईडी के समक्ष पेशी चल रही है। कांग्रेस का आरोप है कि राहुल गांधी को बिना सबूत और साक्ष्यों के आभाव में निराधार और मनघढं़त आरोपों में फंसाया जा रहा है। इस दौरान विरोध जता रहे कांग्रेसियों का लगातार दमन कर उन पर लाठियां बरसाई जा रही हैं और कांग्रेसी बर्बरता का शिकार हो रहे हैं। कांग्रेस के सांसद एवं राष्ट्रीय महासचिव केसी वेणुगोपाल ने एक पत्र जारी कर निर्देश दिए हैं कि इसके विरोध में कांग्रेसी कल 17 जून को सभी जिला मुख्यालयों और केंद्रीय कार्यालयों के सामने प्रदर्शन कर अपना विरोध जताएंगे। पत्र में केसी वेणुगोपाल ने कहा है कि ईडी लगातार पिछले तीन दिनों से राहुल गांधी को तलब कर रही है। इस दौरान कांग्रेस के मुख्यालय को किले में बदल दिया गया है। शांतिपूर्वक विरोध कर रहे कांग्रेस के पदाधिकारियों के साथ पुलिस इस दौरान मारपीट कर रही है। उन्हें दूर दराज के पुलिस स्टेशनों में ले जाकर बंद किया जा रहा है। कांग्रेस मुख्यालय में घुसकर पार्टी कार्यकर्ता पर बर्बरता की जा रही है। कांग्रेसियों की एकजुटता और शांतिपूर्वक सत्याग्रह से घबराकर केंद्र सरकार उसे कुचलने का प्रयास कर रही है।