युग करवट संवाददाता
गाजियाबाद। ऑपरेशन ४२० के तहत कविनगर थाने के एसएचओ संजीव शर्मा की टीम ने साइबर सेल प्रभारी सुमित कुमार की टीम के सहयोग से काल सेंटर की आढ़ में साइबर क्राइम कर रहे गैग का भंडाफोड़ कर दिया। इस कार्रवाई के समय पुलिस ने एक करोड़ से अधिक की ठगी करने वाले जीजा साले सहित तीन जालसाजों को गिरफ्तार कर लिया, जबकि उनके कई साथी पुलिस के हत्थे नहीं चढ़ पाये।
पकड़े गये जालसाजों के पास से १४ मोबाइल, १ पासबुक, ५ डाटा पेपर सीट, २० पॉलिसी की खाली पैड, २ आधार कार्ड, १ पैनकार्ड, ६ एटीएम, ६ चेकबुक, १० पॉलिसी लेटरपैड विद डाटा डिटेल व ८५ विजिटिंग कार्ड के अलावा अन्य सामान बरामद हुआ है। पूछताछ के दौरान पकड़े गये साइबर अपराधियों ने अपने नाम हिमांशु शेखर निवासी मधुबनी हाल एसएससी हाइटï्स राजनगर एक्सटेंशन, जॉनी निवासी बहादुरगढ़ हापुड़ हाल कृष्णानगर विजयनगर और संदीप गुप्ता निवासी कच्चन पुरवा बांदा हाल एसएससी हाइटï्स राजनगर एक्सटेंशन थाना नन्दग्राम बताये।
उक्त जानकारी देते हुए एसपी सिटी प्रथम निपुण अग्रवाल ने बताया कि जो गैंग पुलिस के हत्थे चढ़ा है वह खुद को एचडीएफसी बैंक और एक्साइड लाइफ इंस्योरेंस का अधिकारी बताकर ऐसे लोगों को अपना शिकार बनाता था जो या तो बैंक से लोन लेना चाहते थे या फिर जिनकी इंश्योरेंस पॉलिसी मेच्योर होने वाली होती थी। यह गैंग ठगी करने के लिये फर्जी दस्तावेजों के आधार पर खाते खुलवाकर ठगे गये लोगों की रकम को अपने फर्जी बैंक खातों में ट्रंासफर करवा लेता था। श्री अग्रवाल ने बताया कि अपराधी कुछ समय पूर्व ही पैरोल पर अलीगढ़ जेल से रिहा हुए थे।