प्रमुख अपराध संवाददाता
गाजियाबाद (युग करवट)। पिछले दिनों कविनगर थाना क्षेत्र की लोहा मंडी इलाके में हुई घर्मांतरण की घटना के दौरान प्रकाश में आये तीन लोगों को कविनगर थाना पुलिस ने गिरफ्तार करके जेल भेज दिया था, लेकिन उनके दो साथियों को पुलिस नहीं दबोच पाई थी। इसके बाद कविनगर थाना पुलिस ने उक्त सनसनीखेज प्रकरण को हल्के में लेते हुए विवेचना में शिथिलता बरतनी शुरू कर दी। कविनगर थाना पुलिस की इस लापरवाही का फायदा उठाते हुए फरार चल रहे दोनों आरोपितों ने गिरफ्तारी पर स्टे लेने के लिये इलाहाबाद हाईकोट में याचिका दायर कर दी थी। इसके बाद भी कविनगर पुलिस द्वारा कोई ठोस पैरवी नहीं की गई, जिसके चलते हाईकोर्ट ने याचिका के आधार पर आरोपितों की गिरफ्तारी पर रोक लगा दी। वहीं, पुलिस को आदेशित भी किया कि वह उस समय तक धर्मांतरण करवाने वाले आरोपितों को गिरफ्तार नहीं कर सकेगी जब तक पुलिस कोर्ट में उक्त मामले की चार्जशीट प्रस्तुत नहीं कर देती।