प्रमुख संवाददाता
गाजियाबाद (युग करवट)। कचरा प्रबंधन पर गाजियाबाद में प्रदेश स्तरीय सेमिनार आयोजित होने जा रही है। गाजियाबाद के लिए यह गर्व की बात है। इससे भी बड़ी खबर यह है कि गाजियाबाद नगर निगम प्रदेश के सभी 17 नगर निगमों को कचरा प्रबंधन के गुरू सिखाएगा। ताकी महानगरों में बड़ी समस्या कचरा प्रबंधन की है और उसे दूर किया जा सके। कचरा प्रबंधन पर सेमिनार का आयोजन कल रेडिशन ब्लू होटल में होने जा रहा है।
सेमीनार नगर निगम गाजियाबाद की अगुवाई में हो रही है। जिसमें प्रदेश के सभी 17 नगर निगमों के नगर आयुक्त, वहां के हेल्थ अफसर और कचरा प्रबंधन से जुड़े अधिकारियों को नगर विकास विभाग ने सेमीनार में शामिल होने के निर्देश दिए है। नगर आयुक्त महेंद्र सिंह तंवर ने बताया कि इस सेमीनार में प्रमुख सचिव नगर विकास अमृत अभिजात भी शामिल रहेंगे। इसमें केंद्रीय प्रदूषण विभाग के अधिकारियों को भी शामिल किया गया था। सेमिनार में गाजियाबाद नगर निगम कचरा प्रबंधन के आधुनिक तौर तरीके से निस्तारण के बारे में बताएंगे।
करीब दो वर्ष पहले तक शहर में कचरे के पहाड़ हुआ करते थे, जिनकों हटाया गया। शतप्रतिशत डोर टू डोर कूड़ा कलेक्शन, सूखे कूड़े की सेल कर निगम कर रहा है साल में कई करोड़ की कमाई।
गीले कूड़े के निस्तारण के लिए बायो सीएनजी प्लांट लगाने का काम, और अब गाजियाबाद को कचरा फ्री सिटी बनाने का कार्य चल रहा है। निगम को लगता है कि यह गुर सीखकर प्रदेश को कचरा प्रबंधन के मामले में काफी आगे जा सकता है।