युग करवट संवाददाता
गाजियाबाद। टैक्स अधीक्षक बनारसी दास की आंख फोडऩे की धमकी देने वाले एक कर्मचारी रवींद्र पाल को निलंबित कर दिया गया। मगर मोहननगर जोन के ही एक अन्य कर्मचारी पवन शर्मा पर भी आरोप है कि उन्होंने भी टैक्स अधीक्षक बनारसी दास के साथ बदशलूकी की थी। इस आरोपी कर्मचारी पवन शर्मा के खिलाफ टैक्स अधीक्षक बनारसी दास ने नगर आयुक्त महेंद्र सिंह तंवर से शिकायत की थी। इस कर्मचारी पर कोई एक्शन नहीं लिया गया है। पवन शर्मा के खिलाफ अब जांच बैठाई गई है। जांच अपर नगर आयुक्त आरएन पांडेय को सौंपी गई है। जांच पूरी करने के लिए नगर आयुक्त महेंद्र सिंह ने पन्द्रह दिनों का समय दिया है। जांच के बाद ही पता चलेगा कि इस प्रकरण में कौन कितना दोषी है। वहीं दूसरी और पता चला कि पवन शर्मा एक प्रभावशाली कर्मचारी है। इससे पहले वह नगर आयुक्त के पेशगार रहे श्री भगवान के साथ कार्य कर चुके है। सूत्र दावा कर रहे है कि उनके प्रभाव के कारण ही उन्हें सीधे निलंबित नहीं किया गया है। पहले जांच कराई जा रही है।