नोएडा (युग करवट)। थाना एक्सप्रेस -वे क्षेत्र में रहने वाली एक महिला को उसकी सहेली घर से बुलाकर ले गई तथा अपने पति देवर व ससुर के साथ मिलकर उसकी हत्या कर शव को सिंभावली के पास गंग नहर में फेंक दिया। घटना की रिपोर्ट दर्ज कर मामले की जांच कर रही थाना एक्सप्रेस-वे पुलिस ने महिला समेत चार लोगों को गिरफ्तार किया है। यह हत्या कर्ज के पैसे को वापस नहीं करने के उद्देश्य से की गई थी। अपर पुलिस उपायुक्त (जोन प्रथम) रणविजय सिंह ने बताया कि थाना एक्सप्रेस-वे क्षेत्र में रहने वाली एक महिला श्रीमती शशि (40 वर्ष) को 16 जुलाई को उसके घर से अंजली नामक महिला बुलाकर ले गई थी। उन्होंने बताया कि अंजलि ने अपने पति वीरेंदर, देवर दिनेश तथा ससुर के साथ मिलकर शशि की तिगरी मोड़ के पास गला दबाकर हत्या कर दी तथा उसके शव को एक बक्से में रखकर हापुड़ के सिंभावली के पास गंग नहर में फेंक दिया। उन्होंने बताया कि 18 जुलाई को जनपद हापुड़ पुलिस ने लावारिस अवस्था में महिला के शव को बरामद किया था। उन्होंने बताया कि आरोपी अंजलि ने इस मामले में स्वांग रचा तथा पुलिस को बताया कि 18 जुलाई को उसका कुछ लोगों ने अपहरण कर लिया था, तथा 23 जुलाई को वह हापुड़ में नाटकीय ढंग से लावारिस अवस्था में मिली। उन्होंने बताया कि शक होने पर पुलिस ने उससे सख्ती से पूछताछ किया। पूछताछ के दौरान आरोपी ने बताया कि उसने मृतका शशि से लाखों रुपया कर्ज में लिए थे। शशि ब्याज पर पैसे देने का काम करती थी। पैसे वापस ना करने की नियत से अंजलि ने अपने पति वीरेंद्र ,देवर दिनेश व ससुर के साथ मिलकर षड्यंत्र रचा तथा उसे अपने साथ घर से लेकर गई। और तिगरी मोड़ के पास उसकी हत्या कर शव को नहर में फेंक दिया। उन्होंने बताया कि पुलिस ने चारों आरोपियों को गिरफ्तार कर लिया है। उन्हें कोर्ट में पेश किया गया जहां से न्यायालय ने उनको 14 दिन की न्यायिक हिरासत में जेल भेज दिया है।