ग्रेटर नोएडा (युग करवट)। यमुना एक्सप्रेस वे औद्योगिक विकास प्राधिकरण ने आज अवैध रूप से किए गए अतिक्रमण के खिलाफ अभियान चलाकर दो सौ तिहत्तर करोड़ 65 लाख साठ हजार कीमत की जमीन को अतिक्रमण मुक्त करा लिया। यमुना विकास प्राधिकरण के सीओ डॉ. अरुणवीर सिंह ने बताया कि जनपद अलीगढ़ के डोरीपुर तथा ग्राम खण्डेहा व सिमरौठी में यमुना विकास प्राधिकरण द्वारा अधिसूचित क्षेत्र में अवैध रूप से निर्माण किया गया था, कुछ लोग यहां पर अवैध रूप से प्लाट और फार्म हाउस बेच रहे थे। उन्होंने बताया कि आज प्राधिकरण द्वारा अवैध अतिक्रमण हटाने की कार्रवाई की गयी। इस दौरान गांव डोरीपुर से 17.815 हेक्टेयर, खण्डेहा से 3.8327 हेक्टेयर व सिमरौठी से 5.7179 हेक्टेयर का अतिक्रमण हटाया गया। उन्होंने बताया कि प्राधिकरण के विशेष कार्याधिकारी शैलेन्द्र कुमार सिंह के नेतृत्व में अतिक्रमण हटाने की कार्रवाई की गयी। उन्होंने बताया कि यह जमीन प्राधिकरण द्वारा अधिसूचित क्षेत्र में समायोजित है। उन्होंने लोगों से आगाह किया कि वे यमुना विकास प्राधिकरण क्षेत्र के अनुसूचित क्षेत्र में बिना जांच की कोई जमीन ना खरीदें। आजकल कुछ भू-माफिया नोएडा इंटरनेशनल एयरपोर्ट के आसपास सस्ती दर पर जमीन देने का झांसा देकर लोगों को अपने जाल में फंसा रहे हैं।