प्रमुख संवाददाता
गाजियाबाद (युग करवट)। इंदिरापुरम कॉलोनी नगर निगम को ट्रांसफर करने के मामले में जीडीए जल्दी में नहीं है। हालांकि इसको लेकर जीडीए और निगम के अधिकारियों के बीच कई दौर की वार्ता हो चुकी है। दरअसल कई करोड़ रुपये के लेनदेन के मामला होने के कारण जीडीए इस मामले में फूंकफूंक कर कदम उठा रहा है। माना जा रहा है कि जीडीए इस मामले में उच्चाधिकारियों को यह प्रकरण प्रेषित करेगा। वहां से ग्रीन सिग्नल मिलने के बाद ही जीडीए प्रकरण में आगे बढ़ेगा। इंदिरापुरम कॉलोनी नगर निगम को ट्रांसफर करने को लेकर हाईकोर्ट में भी एक केस फाइल किया गया था। हाईकोर्ट ने नगर निगम और जीडीए से कॉलोनी के नगर निगम को ट्रांसफर नहीं होने के मामले में जवाब मांगा था। इसके बाद से ही जीडीए और निगम के अधिकारी इसको लेकर कोई रास्ता निकालने की कोशिश में लगे है। जीडीए वीसी आरके सिंह और नगर आयुक्त महेंद्र सिंह तंवर के बीच कई दौर की वार्ता होने के बाद भी अभी तक कोई फैसला नहीं हो पाया है। जीडीए इस मामले में शासन में उच्चाधिकारियों के निर्देश के बाद ही कोई कदम उठाने की तैयारी में है। ऐसे में लगता है कि इंदिरापुरम कॉलोनी जीडीए निगम को ट्रांसफर करने की जल्दी में नहीं है।