युग करवट संवाददाा
नई दिल्ली। समाजवादी पार्टी ने अपने राज्यसभा उम्मीदवारों के नाम करीब-करीब फाइनल कर दिए हैं। पार्टी सूत्रों का कहना है कि समाजवादी पार्टी राष्टï्रीय अध्यक्ष अखिलेश यादव की पत्नी पूर्व सांसद डिंपल यादव को राज्यसभा भेज रही है। कपिल सिब्बल ने सपा कार्यालय पहुँच कर अखिलेश यादव से मुलाकात भी की। इसके बाद नामांकन करने के लिए विधानसभा पहुंचे।
इसी तरह जावेद अली खान को भी पार्टी राज्यसभा भेज रही है। वह पहले भी सपा के राज्यसभा सदस्य रह चुके हैं। मालूम हो कि अभी तक राज्यसभा में सपा के पांच सदस्य हैं।
इसमें कुंवर रेवती रमन सिंह, विशंभर प्रसाद निषाद और चौधरी सुखराम सिंह यादव का कार्यकाल चार जुलाई को खत्म हो रहा है। कांग्रेस नेता और सुप्रीम कोर्ट के वकील कपिल सिब्बल समाजवादी पार्टी के राष्टï्रीय अध्यक्ष अखिलेश यादव और आजम खां के बीच की दूरी कम करा सकते हैं। समाजवादी पार्टी कपिल सिब्बल को राज्यसभा भेज रही है।
ऐसे में आजम खां को सुप्रीम कोर्ट से जमानत दिलाने वाले कपिल सिब्बल को राज्यसभा भेजकर अखिलेश यादव एक तीर से दो निशाने साध रहे हैं। अखिलेश के इस फैसले से पार्टी को राज्यसभा में एक बुलंद आवाज मिलेगी, तो वहीं पार्टी के अंदर चल रही अंदरूनी राजनीति भी खत्म हो सकेगी। समाजवादी पार्टी आजम और शिवपाल के बगावती रूख से खासी परेशान है। ऐसे में माना जा रहा है कि आजम को मनाने में कपिल सिब्बल बड़ी भूमिका निभा सकते हैं। सपा विधायक आजम खां 27 महीने बाद जेल से बाहर आए हैं।
कोर्ट में उनकी पैरवी पूर्व केंद्रीय मंत्री और सुप्रीम कोर्ट में वकील कपिल सिब्बल ने की थी। ऐसे में दावा किया जा रहा है कि आजम खां की पैरवी के लिए सपा ने कपिल सिब्बल को ही तैयार किया है।
नामांकन दाखिल करते समय सपा अध्यक्ष और पूर्व मुख्यमंत्री अखिलेश यादव, महासचिव व राज्यसभा सदस्य रामगोपाल यादव समेत कई पदाधिकारी उपस्थित थे। सपा ने आज तीन प्रत्याशियों के नामों की घोषणा की।
नामांकन दाखिल करने से पहले कपिल सिब्बल ने कहा कि उन्होंने कांग्रेस की सदस्यता से 16 मई को इस्तीफा दे दिया था। वे अब सपा के सदस्य है।