युग करवट संवाददाता
गाजियाबाद। ओमिक्रोन को रोकने के लिए नगर निगम अब वार्डवार पॉलिसी बनाएगा। इसके लिए प्रदेश सरकार की ओर से निर्देश जारी किए गए है। गाजियाबाद में इस तरह से 100 वार्ड स्तर पर जागरूकता कमेटी बनाई जाएगी। ओमिक्रोन अभी गाजियाबाद से दूर है। मगर गाजियाबाद एक ऐसा सिटी है जहां सबसे अधिक रिस्क है। यानि यहां के रहने वाले काफी बड़ी संख्या में लोग विदेशों में रहते है। वहां से गाजियाबाद आने वाले लोगों पर अभी नजर रखी जा रही है।
मगर निगम प्रशासन को शहर के लोगों को ओमिक्रोन से बचाने में अहम भूमिका दी गई है। नगर निगम के हेल्थ अफसर डॉ0 मिथलेश कुमार ने बताया कि शासन ने एक रिपोर्ट तैयार कर भेजने के लिए कहा है। जिसमें बताना है कि गाजियाबाद नगर निगम ओमिक्रोन के संभावित खतरों से निपटने के लिए क्या कुछ कर रहा है।
इस प्लान के तहत ही नगर निगम अब वार्ड स्तर पर जागरूकता कमेटी बनाएगा। इसके लिए पार्षद और आरडब्लयूए का सहयोग भी लिया जाएगा। इसका मकसद है कि अगर कोई ओमिक्रोन का कोई केस शहर में आता है तो इसकी तुरंत जानकारी हेल्थ विभाग और प्रशानिक अधिकारियों को दी जाएगी। यह कमेटी निगम के हेल्थ अफसर डॉ0 मिथलेश कुमार की अगुवाई में हुई बनाई जाएगी। इस कमेटी के अध्यक्ष हेल्थ अफसर को बनाया जाएगा।