नगर संवाददाता
गाजियाबाद (युग करवट)। जिला निर्वाचन अधिकारी व डीएम इन्द्र विक्रम सिंह को एक सख्त मिजाज अधिकारी के रूप में जाना जाता है। लेकिन अगर कोई कर्मचारी मेहनत और लगन से काम करता है तो वह खुले दिल से उसकी सराहना भी करना नहीं भूलते। कविनगर रामलीला मैदान में पोलिंग पार्टियों की रवानगी को लेकर डीएम ने स्थल का निरीक्षण किया। इस दौरान एक कर्मचारी ने उनसे रिजर्व के बजाए किसी मतदान केन्द्र में डयूटी लगाए जाने की अपील की।
इस पर डीएम ने युवा कर्मचारी की सराहना करते हुए कहा कि ऐसे लोग जो दूसरों का बोझ उठाएं, दर्द बांटे, ऐसे लोग केवल हिन्दुस्तान में मिलते हैं। डीएम ने आगे कहा कि यह कर्मचारी ऑर्डिनेस फैक्ट्री का कर्मी हैं, जहां सिर्फ असलहे ही नहीं बनते, बल्कि हौंसले भी बनते हैं। सीमा पर सिर्फ एक सैनिक ही नहीं लड़ता, उसके पीछे उसके माता-पिता, भाई-बहन और गांव के लोगों का हौंसला लड़ता है। डीएम ने कहा कि उनके पास अधिकतर लोग डयूटी कटवाने के लिए आते हैं, लेकिन ऐसा कम ही होता है जब कोई आगे बढकर चुनाव डयूटी करने के लिए कहता है। वास्तव में यह देश का युवा है। जो लोकतंत्र के इस पर्व को अपने जज्बे से और भी मजबूत बनाते हैं। उन्होंने युवा कर्मी की सराहना करते हुए उसकी पीठ भी थपथपाई।
स्पेशल चाइल्ड की मां को देखकर हुए हैरान डीएम इन्द्र विक्रम सिंह जब निरीक्षण कर रहे थे, तो वहीं एक महिला मतदान कर्मी दिखाई दी, जो अपने बच्चे के साथ थी। डीएम ने उनसे हालचाल पूछा तो पता चला कि बच्चा स्पेशल चाइल्ड है, और महिला कर्मिक बी-२ मतदान कर्मी है। डीएम इस महिला के जज्बे को देखकर हैरान रह गए। उन्होंने तत्काल एआरओ बुलाया और निर्देश दिए कि महिला के साथ स्पेशल चाइल्ड है, ऐसे में उसका विशेष रखते हुए डयूटी लगाई जाएं। डीएम ने महिला की हौंसला अफजाई भी की।
डीएम ने बढ़ाया मतदान कर्मिकों का हौंसला
गाजियाबाद (युग करवट)। कल होने वाले मतदान के लिए आज पोलिंग पार्टियों की रवानगी की जा रही है। कविनगर रामलीला मैदान और कमला नेहरू नगर के मैदान से पार्टियों को उनके मतदान केन्द्रों के लिए रवाना किया जा रहा है। जिला निर्वाचन अधिकारी इन्द्र विक्रम सिंह ने भी रवानगी स्थलों का दौरा किया। उन्होंने कर्मचारियों से उनके डयूटी स्थल से लेकर उनकी समस्याओं को भी जाना। साथ ही जिस भी कर्मिक से मिलते, उसकी हौंसला अफजाई करते। इस दौरान उन्होंने कर्मचारियों को कोई समस्या न हो, विशेषकर महिला कर्मियों को लेकर सम्बंधित अधिकारियों को निर्देश दिए। इस दौरान सभी स्टॉलों पर जाकर डीएम ने व्यवस्थाओं का जायजा लिया। बसों की स्थिति जानी। तो वहीं कर्मिकों को स्थल पर मिल रही चाय भी उनके साथ पी। डीएम ने कहा कि मतदान कर्मिकों का उत्साह देखकर वह खुश हैं। हर कोई अपनी जिम्मेदारी निभाने के लिए पूरी तरह से तैयार है। अब बस मतदाताओं को अपनी जिम्मेदारी निभानी हैं।