प्रमुख अपराध संवाददाता
गाजियाबाद (युग करवट)। कावंडिय़ों के साथ कोई अप्रिय घटना न हो और उन्हें किसी तरह की असुविधा न पेश आए, इसके मदï्देनजर एसपी देहात डॉक्टर इरज राजा ने अपनी मासूम बेटी व पत्नी का मोह त्यागकर सरकारी आवास भी छोड़ दिया है। जी हां, यह बात इसीलिये कही जा रही है क्योंकि श्री राजा पिछले कई दिनों से अपने आवास पर ना जाकर भोलों के साथ शिविरों में ही दो घंटे की अधूरी नींद ले रहे हैं। सूत्रों की माने तो श्री राजा रोजाना दिन निकलने से पहले तक कांवड़ मार्गों पर पैदल भ्रमण करने के साथ कावंड़ शिविरों में बैठकर भोलों की सेवा व उनकी सुविधा का ख्याल रख रहे हैं। सूत्रों का यह भी कहना है कि श्री राजा पिछले छह दिनों से मात्र दो-तीन घंटे ही विश्राम कर पा रहे हैं। बीती रात भी उन्होंने गंगनहर कांवड़ मार्ग से लेकर मेरठ कांवड़ मार्ग तक बने शिविरों का निरीक्षण करने के साथ-साथ भोलों की सेवा की और कई कांवड़ मार्गों पर पैदल भ्रमण भी किया। इस मौके पर उन्होंने कई कावंडिय़ों को फस्र्ट ऐड भी दी। श्री राजा के इस उत्कृष्टï एवं उपकारपूर्ण कार्यों को देखकर उनके महकमें के अधिकारी व पुलिसकर्मी उनकी प्रशंसा मुक्त कंठ से कर रहे हैं। कावंडिय़े भी आभार जताकर उन्हें आशीष देते दिखाई दे रहे हैं।