युग करवट संवाददाता
गाजियाबाद। जमीन का बढ़ा हुआ मुआवजे की मांग को लेकर किसानों का जीडीए पर चल रहा धरना रात दस बजे समाप्त हो गया। एसएसपी पवन कुमार की कोशिश से प्रशासन को धरना समाप्त कराने में सफलता मिली। इस दौरान एडीएम सिटी विपिन कुमार, एसडीएम सदर विनय कुमार, एसपी सिटी आदि अधिकारी भी वार्ता में शामिल हुए। तय किया गया कि 13 दिसंबर सोमवार को जीडीए अधिकारियों और किसानों के प्रतिनिधियों के बीच बैठक होगी।
दूसरी और किसानों का धरना आज से सदरपुर गांव के एक स्कूल में शुुरू हो गया। किसान नेता सुरदीप शर्मा ने बताया कि जब तक जीडीए से कोई समझौता नहीं हो जाता है पूरे मधुबन-बापूधाम कॉलोनी में कोई भी कार्य नहीं होने दिया जाएगा।
किसानों ने कल करीब एक बजे जीडीए पर अपना धरना शुुरू किया था। इसमें सदरपुर सहित छह गांवों के किसानों ने हिस्सा लिया। रात दस बजे तक महिलाएं और पुरुष धरने पर बैठे रहे। जीडीए और प्रशासन की कोशिश के बाद भी जब किसान धरना समाप्त करने को तैयार नहीं हुए तो प्रशासन ने एसएसपी पवन कुमार की मदद ली। पवन कुमार रात में जीडीए गेट पर चल रहे धरना स्थल पर पहुंचे। यहां उन्होंने किसानों से खुलकर बात की। उन्होंने आश्वासन दिया अभी जीडीए अधिकारी बाहर गए है। उनके आने पर सोमवार 13 दिसंबर किसानों की जीडीए अधिकारियों के साथ वार्ता कराई जाएगी। किसान नेता सुरदीप शर्मा ने कहा कि एसएसपी की बात किसानों ने मान ली। अब देखना है कि अगले सोमवार को वार्ता में जीडीए और किसानों के बीच क्या रास्ता निकलता है। साथ ही उन्होंने कहा कि जब तक बढ़ा मुआवजा देने को लेकर जीडीए से समझौता नहीं हो जाता तब तक किसान मधुबन-बापूधाम कॉलोनी में जीडीए को विकास कार्य नहीं करनें देंगे।